woman (1)

आपको ऐसे अंडरवियर खरीदने की जरुरत है, जो आपके लिये आरामदायक हों, हर महिला का शरीर अलग होता है, इसलिये कुछ के लिये हिपस्टर्स सबसे अच्छा काम करते हैं।

क्या आपको भी लगता है कि अंडरवियर खरीदने का मतलब है कि सिर्फ उनका रंग और स्टाइल ध्यान में रखना, तो आप बिल्कुल गलत हैं, अंडरवियर खरीदते समय और भी बहुत कुछ है, जिस पर आपको ध्यान देना चाहिये, खासतौर पर महिलाओं को अपना अंडरवियर खरीदने से पहले अपनी वजाइना के बारे में सोच लेना चाहिये, हालांकि ज्यादातर महिलाओं को वो सारे अंडरवियर्स खरीदने होते हैं, जो दिखने में सेक्सी और आकर्षक हो, लेकिन इतना काफी नहीं है, इसके रंग, कट और स्टाइल की जांच करने के अलावा आपको ये भी आकलन करने की जरुरत होती है, कि क्या ये आपकी वजाइना के लिये अच्छा है या नहीं।

संक्रमण का डर
क्या आपको पता है कि कुछ ऐसे मेटेरियल्स हैं, जिन्हें लंबे समय तक पहना जाए, तो इससे खुजली, जलन या फिर कोई गंभीर बीमारी हो सकती है, ये आपको यीस्ट या वजाइना में संक्रमण भी कर सकता है, तो फिर सही अंडरवियर कैसे चुनना चाहिये, आइये इस बारे में आपको कुछ खास उपाय बताते हैं।

इन बातों का रखें ध्यान
आपको ऐसे अंडरवियर खरीदने की जरुरत है, जो आपके लिये आरामदायक हों, हर महिला का शरीर अलग होता है, इसलिये कुछ के लिये हिपस्टर्स सबसे अच्छा काम करते हैं, जबकि दूसरों के लिये बिकनी कट, आप जो भी खरीदती हैं, सुनिश्चित करें, तो उसमें आरामदायक महसूस करती हों।
इसके साथ ही अंडरवियर के साइज का भी ध्यान रखें, ऐसा हो सकता है कि आप छोटे साइज में फिट होना चाहती हों, लेकिन अगर ये आपको असहज महसूस कराता है, तो तुरंत रुक जाएं, छोटे साइज का अंडरवियर वजाइना में जलन पैदा कर सकता है, साथ ही इंफेक्शन और रैसेज का कारण भी हो सकता है।
लेस वाले अंडरवियर में महिलाएं सेक्सी महसूस करती हैं, आप कभी-कभी तो इसे पहन सकती हैं, लेकिन अगर आप इसे नियमित रुप से पहनती हैं, तो आपको घुटन और खुजली महसूस हो सकती है, साथ ही स्किन पर लाल दाग भी नजर आते हैं।
कुछ ऐसा ही थोंग्स के साथ भी होता है, यदि आप एक ऐसा कपड़ा पहनती हैं, जो बहुत अधिक टाइट है या सिथेंटिक कपड़े से तैयार किया गया है, तो ये आपके बट में जलन पैदा कर सकता है।

निजी अंग के लिये सबसे अच्छा अंतरवस्त्र
प्योर कॉटन से बना अंतरवस्त्र सबसे अच्छा होता है, कुछ लोग नायलॉन, पॉलिस्टर और स्पैन्डेक्स से बने अंडरवियर पहनते हैं, ये सिंथेटिक कपड़े गर्मी और नमी पैदा करते हैं, वहीं दूसरी ओर कॉटन में ऐसी कोई दिक्कत नहीं होती, ये ना सिर्फ आपको आरामदायक महसूस कराता है, बल्कि आपके प्राइवेट पार्ट को भी स्वस्थ्य रखता है।

प्राइवेट पार्ट के लिये क्या है बुरा
सबसे पहले अंडरवियर को अपने से छोटे साइज में ना खरीदें, इससे पूरे दिन जलन और खुजली का अनुभव होता है, कुछ रिसर्च बताते हैं कि खराब फिटिंग का अंडरवियर भी इन्ग्रोन हेयर पैदा कर सकता है, ऐसे अंडरवियर से दूर रहना चाहिये, जिसे पहनने से पसीना आता हो, वर्कआउट या पसीने के बाद हमेशा अपने अंडरवियर को बदलें, क्योंकि नमी से यीस्ट और वैक्टीरियल संक्रमण हो सकता है, थोंग्स से भी बचना चाहिये, ऐसा इसलिये क्योंकि वो अन्य किस्मों की तुलना में कम स्वच्छ होते हैं, अनूठे डिजाइन के कारण इसमें कुछ बैक्टीरिया जल्दी चिपकते हैं, और ये बिल्कुल भी स्वस्थ्य नहीं हैं।
(डिस्क्लेमर- इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित है, हम इसकी पुष्टि नहीं करते हैं, इन पर अमल करने से पहले संबंधित क्षेत्र के एक्सपर्ट से संपर्क करें)