विजय माल्या के बदल गये सुर, बैंकों से गिड़गिड़ाकर कह रहे ऐसी बात, देश लौटने को तैयार

0
168
Loading...

कोर्ट में सुनवाई खत्म होने के बाद शराब कारोबारी ने अदालत से बाहर निकलकर कहा कि मैं बैकों से हाथ जोड़कर अपील करता हूं, कि अपना पूरा मूलधन तत्काल वापस लें।

मैच फिक्सिंग के आरोपी संजीव चावला के भारत प्रत्यर्पित होने के बाद भगोड़े विजय माल्या के सुर बदल गये हैं, गुरुवार को प्रत्यर्पण पर ब्रिटिश कोर्ट द्वारा मामला सुरक्षित रखने के बाद माल्या ने गिड़गिड़ाते हुए भारतीय बैकों से अपील की, कि प्लीज अपना 100 फीसदी मूलधन वापस ले लो, आपको बता दें कि पहले माल्या ने बैकों से कहा था कि वो सेटलमेंट के लिये तैयार हैं, लेकिन कुछ रियायत दिया जाए, लेकिन धीरे-धीरे अब उनके सुर बदल रहे हैं।

हाथ जोड़कर अपील
कोर्ट में सुनवाई खत्म होने के बाद शराब कारोबारी ने अदालत से बाहर निकलकर कहा कि मैं बैकों से हाथ जोड़कर अपील करता हूं, कि अपना पूरा मूलधन तत्काल वापस लें, ईडी और बैंक दोनों ही उनकी संपत्तियों को लेकर लड़ रही है, इस प्रक्रिया में उनके साथ उचित व्यवहार नहीं किया जा रहा है, माल्या ने कहा कि बैंकों की इस शिकायत पर कि मैं पैसे नहीं दे रहा हूं, ईडी ने मेरी संपत्तियां जब्त की है, मैं ने कोई अपराध नहीं किया है, जो ईडी मेरी संपत्ति जब्त कर रही है।

पैसे ले लो
विजय माल्या ने कहा कि मैं बैंकों से कह रहा हूं कि कृपया अपना पूरा पैसा वापस ले लें, ईडी कह रहा है कि इन संपत्तियों पर उनका दावा है, तो दूसरी ओर बैंक भी लड़ रहे हैं, माल्या से जब भारत लौटने को लेकर सवाल पूछा गया, तो उन्होने कहा कि मुझे वहीं होना चाहिये, वहां मेरा परिवार है, मेरे हित हैं, अगर सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय तर्कसंगत होते, तो ये एक अलग कहानी होती, पिछले 4 साल में वो लोग जो मेरे साथ कर रहे हैं, वो अनुचित है।

9 हजार करोड़ का लोन
मालूम हो कि विजय माल्या पर भारत के अलग-अलग बैकों के 9 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है, हालांकि लोन चुकाने के बजाय वो लंदन भाग गया था, जिसके बाद सरकारी एजेंसियों ने शिकंजा कसना शुरु किया, उसकी कई संपत्तियों को ईडी जब्त कर चुकी है, जिसके बाद अब धीरे-धीरे उसके सुर बदल रहे हैं, साथ ही उसे भारत लाने की भी कोशिश जारी है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here