जज ने ये भी कहा कि राजकुमार हया और उनके दो बच्चों की जिंदगी पर शेख की ओर से खतरे को देखते हुए ये राशि उन्हें दी जा रही है।

दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम को अपनी 6ठीं पत्नी से तलाक काफी महंगा पड़ गया, उन्हें बच्चों की कस्टडी की लड़ाई को निपटाने के लिये पूर्व पत्नी को 554 मिलियन पाउंड यानी 5500 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि चुकानी होगी, लंदन के हाईकोर्ट ने ये आदेश दिया है। जज फिलिप मूर ने कहा कि जॉडर्न के राजा अब्दुल्ला की सौतेली बहन, राजकुमारी हया बिन्त अल हुसैन और दंपत्ति के दो बच्चों को दी जाने वाली बड़ी राशि का मुख्य उद्देश्य उनकी आजीवन सुरक्षा सुनिश्चित करना है, जज ने ये भी कहा कि राजकुमार हया और उनके दो बच्चों की जिंदगी पर शेख की ओर से खतरे को देखते हुए ये राशि उन्हें दी जा रही है।

भविष्य की सुरक्षा के लिये किया जाए भुगतान
जज ने कहा कि वो सुरक्षा के अलावा अपने लिये कोई राशि नहीं मांग रही है, शादी टूटने के बाद उन्हें जो नुकसान हुई, वो बस उसकी भरपाई मांग रही है, जज ने शेख मोहम्मद को 3 महीने के भीतर 251.5 मिलियन पाउंड का एकमुश्त भुगतान करने का निर्देश दिया है। हया ने कोर्ट में शेख से गहने तथा घुड़दौड़ की बकाया राशि के लिये इन पैसों की मांग की थी, उनकी मांग ये भी थी कि भविष्य की सुरक्षा के लिये उन्हें ये भुगतान किया जाए।

बच्चों की शिक्षा और भरण-पोषण का खर्च
कोर्ट ने शेख मोहम्मद को अपने दो बच्चों की शिक्षा के लिये भी भुगतान का आदेश दिया है, शेख यूएई के उपाध्यक्ष तथा प्रधानमंत्री हैं, उनकी 14 साल की बेटी है, जिनका नाम जलीला है, 9 साल के बेटे का नाम जायद है, दोनों की शिक्षा के लिये शेख को 3 मिलियन पाउंड देने के लिये कहा गया है। दुबई के अमीर शासक को बच्चों के भरण-पोषण और वयस्क होने तक उनकी सुरक्षा के लिये प्रति साल 11.2 मिलियन पाउंड का भुगतान करने के लिये कहा गया है, शेख को अपने दोनों बच्चों को 290 मिलियन पाउंड एचएसबीसी बैंक गारंटी के तहत भुगतान करना होगा।

अब तक का सबसे महंगा तलाक
लंदन के वकीलों की मानें, तो राजकुमारी हया को मिलने वाली राशि ब्रिटेन में पारिवारिक विवाद के मामले में मिलने वाली अब तक की सबसे बड़ी मुआवजा राशि है, हालांकि हया ने 1.4 बिलियन पाउंड मुआवजे की मांग की थी, उन्हें मिलने वाली राशि इसके आधे से भी कम है।

Read Also – राखी सावंत से अपने रिश्ते की रितेश ने खोल दी पोल, पहली पत्नी पर भी गंभीर आरोप