शरजील इमाम ने संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ एएमयू में एक भाषण दिया था, जिसमें उन्होने कथित रुप से असम को देश से अलग करने की बात कही थी।

राजद्रोह के आरोप में गिरफ्तार जेएनयू छात्र शरजील इमाम को लेकर एक के बाद एक हैरान करने वाली बातें सामने आ रही है, पुलिस सूत्रों का दावा है कि शरजील को उनकी गर्लफ्रेंड पर दबाव बनाकर गिरफ्तार किया गया, आपको बता दें कि जेएनयू के पूर्व छात्र को 28 जनवरी को जहानाबाद के काको से गिरफ्तार किया गया था, इससे पहले लगाचार 4 दिनों तक पुलिस छापेमारी करती रही, लेकिन वो कहीं नहीं मिल रहा था।

वीडियो वायरल हुआ था
मालूम हो कि शरजील इमाम ने संशोधित नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ एएमयू में एक भाषण दिया था, जिसमें उन्होने कथित रुप से असम को देश से अलग करने की बात कही थी, ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिसके बाद उनके खिलाफ राजद्रोह समेत अनेक धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया।

ऐसे हुई गिरफ्तारी
पुलिस से जुड़े सूत्रों के अनुसार शरजील इमाम की गिरफ्तारी के दिन दिल्ली पुलिस अपराधा शाखा और बिहार पुलिस की टीम ने सुबह 4 बजे शरजील के भाई को पूछताछ के लिये हिरासत में लिया, भाई ने पूछताछ में उसके एक दोस्त इमरान का पता बताया, जब पुलिस ने इमरान को हिरासत में लेकर पूछताछ की, तो शरजील की प्रेमिका की जानकारी मिली, इसके बाद पुलिस प्रेमिका तक पहुंची, फिर प्रेमिका पर दबाव बनाकर शरजील को मलिक टोला में दोस्त के घर मिलने के लिये बुलाने को कहा, पहले तो शरजील मना करता रहा, लेकिन प्रेमिका के बार-बार कहने पर वो इमामबाड़े से बाहर निकला जैसे ही वो बाहर निकला, पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

बिहार पुलिस और क्राइम ब्रांच
इस ऑपरेशन को बिहार पुलिस की स्थानीय टीम और दिल्ली क्राइम ब्रांच ने मिलकर अंजाम दिया, शरजील को गिरफ्तार करने वाली टीम का नेतृत्व दिल्ली पुलिस के डीसीपी राजेश देव कर रहे थे, गिरफ्तार करने के बाद उसे दिल्ली लाया गया है, जहां कोर्ट ने पांच दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here