कानपुर में वेश्यावृत्ति रैकेट का भंडाफोड़, व्हाट्सएप्प के जरिये चल रहा था पूरा धंधा

0
222
Loading...

गिरोह के संचालक लड़कियों को पूरे यूपी में भेजते थे, नये साल पर 25 हजार रुपये लेकर दो लड़कियों को दिल्ली भेजा गया था।

कानपुर के चकेरी थाना इलाके के श्याम नगर में पुलिस ने किराये के मकान में चल रहे सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है, छापेमारी के दौरान पुलिस टीम ने रैकेट संचालक समेत 9 लोगों को गिरफ्तार किया है, रैकेट चलाने वाले एक दंपत्ति और उनका एक रिश्तेदार है। बताया जा रहा है कि गिरोह के सदस्य व्हाट्सएप्प और फेसबुक के जरिये पूरे उत्तर प्रदेश में लड़कियां भेजते थे, गिरोह में असम और फतेहपुर की लड़कियां भी हैं।

दो दंपत्ति शामिल
यूपी पुलिस के अनुसार अचलगंज उन्नाव निवासी राघवेन्द्र शुक्ला अपनी पत्नी के साथ किराये के मकान में रहते थे, वो नौबस्ता के पशुपति नगर निवासी अपने साढू आशुतोष ओझा और उनकी पत्नी के साथ मिलकर सेक्स रैकेट चला रहे थे, पुलिस ने चारों के अलावा कैंट लाल कुर्ती निवासी सत्यम द्विवेदी और 4 अन्य युवतियों को गिरफ्तार किया है।

50 से ज्यादा व्हाट्स एप्प ग्रुप
राघवेन्द्र और आशुतोष के मोबाइल से इस बात का पता चला है कि उसने 50 से ज्यादा व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाये हैं, जिस पर वो कस्टमर को युवतियों की तस्वीरें भेजते थे, फिर रेट तय किया जाता है, इसके बाद कस्टमर उसके घर पर आते थे, जहां उन्हें लड़की उपलब्ध कराया जाता था।

ई-वॉलेट से रुपये का लेन-देन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गिरोह के संचालक लड़कियों को पूरे यूपी में भेजते थे, नये साल पर 25 हजार रुपये लेकर दो लड़कियों को दिल्ली भेजा गया था, साथ ही कानपुर में पांच हजार और दिल्ली में 25 हजार की बुकिंग की जाती थी, गिरोह के सरगना पैसा बैंक अकाउंट, नकद और ई वॉलेट के जरिये लेते थे, मौके से कई आपत्तिजनक चीजें भी बरामद की गई है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here