जामिया- जावेद अख्तर ने पुलिस पर उठाये सवाल, तो IPS ने दिया झन्नाटेदार जवाब

0
144
Loading...

जावेद अख्तर द्वारा ऐसी टिप्पणी के बाद आईपीएस संदीप मित्तल भी इस बहस में कूद पड़े, उन्होने गीतकार पर तंज कसा।

नागरिकता संशोधन कानून को लेकर देश के अलग-अलग हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी है, राजधानी दिल्ली के जामिया इलाके में भी जमकर बवाल हो रहा है, इसके साथ ही जेएनयू में भी छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं, अब राजनीतिक पार्टियां इस मसले को भुनाने में लगी हुई है, रविवार को हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन में पुलिस को उपद्रवियों को तितर-बितर करने के लिये लाठीचार्ज और आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े थे। जिस पर कुछ लोग सोशल मीडिया के जरिये सवाल उठा रहे हैं। चर्चित लेखक और गीतकार जावेद अख्तर ने भी इस पर प्रतिक्रिया जाहिर की है।

शहरी आतंकी
दरअसल एक शख्स ने जामिया में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद गीतकार जावेद अख्तर को टैग कर लिखा, जामिया में छात्र उस मीडिया पर हमला कर रही है, जो उन्हें उनके द्वारा किये जा रहे शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन का आईना दिखा रहे हैं, लेकिन एंटी नेशनल और सेक्युलर गैंग इसकी निंदा नहीं करेंगे, ये शहरी आतंकी हैं।

जावेद अख्तर ने लिखा जवाब
इस पर लेखक और गीतकार जावेद अख्तर ने लिखा, लॉ ऑफ लैंड के अनुसार किसी भी परिस्थिति में पुलिस किसी भी विश्वविद्यालय के कैंपस में वहां के अधिकारियों की इजाजत के बगैर नहीं घुस सकती, जामिया कैंपस में बिना इजाजत घुसकर पुलिस ने ऐसी मिसाल कायम की है, जो हर विश्वविद्यालय के लिये एक खतरा है।

आईपीएस ने दिया जवाब
जावेद अख्तर द्वारा ऐसी टिप्पणी के बाद आईपीएस संदीप मित्तल भी इस बहस में कूद पड़े, उन्होने गीतकार पर तंज कसते हुए लिखा, प्रिय कानून विशेषज्ञ, प्लीज लॉ ऑफ लैंड, अनुभाग संख्या और अधिनियम आदि के नाम को थोड़ा विस्तार से समझाएं, ताकि हम भी इसे अच्छे से जान सकें। मालूम हो कि नागरिकता कानून को लेकर दिल्ली के अलावा कई राज्यों में विरोध प्रदर्शन जारी है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here