वी़डियो देखने के लिये नीचे जाएं
महिला रिपोर्टर वहां का हाल बता रही थी, तभी अचानक भीड़ से आवाज आई कि आप रिपोर्टिंग नहीं कर सकती।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में कल दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी में विरोध प्रदर्शन हुआ, आज फिर छात्र मानव श्रृंखला बनाकर लगातार दिल्ली पुलिस और सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे हैं, जामिया से आंखों देखी हाल बताने पहुंची एक महिला रिपोर्टर के साथ कुछ लोगों ने बदसलूकी की कोशिश की, रिपोर्टर के साथ चैनल के दूसरे स्टाफ को भी घेरने की कोशिश की गई।

रिपोर्टिंग करने से रोका
महिला रिपोर्टर वहां का हाल बता रही थी, तभी अचानक भीड़ से आवाज आई कि आप रिपोर्टिंग नहीं कर सकती, यहां का हाल नहीं बता सकती, हालांकि दूसरे कुछ लोगों ने उस युवक को वहां से ले जाने की कोशिश की, चैनल ने इसका वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट किया है, जो तेजी से वायरल हो रहा है।

धैर्य नहीं खोया
हालांकि तनाव भरे माहौल में भी महिला रिपोर्टर ने अपना धैर्य नहीं खोया और लगातार वहां की सूरते हाल बताती रही, तभी लाइव रिपोर्टिंग के दौरान भीड़ में से एक शख्स कैमरे के सामने आकर खड़ा हो गया, ताकि उनकी करतूतें पूरा देश नहीं देख सके, कैमरे भी बंद कराने की कोशिश की गई।

वीसी ने की पीसी
जामिया में कल हुई हिंसा के मामले को लेकर कुलपति नजमा अख्तर ने आज प्रेस कांफ्रेंस की, कुलपति ने कहा कि पुलिस बिना इजाजत कैंपस में घुसी, हम इसकी एफआईआर करेंगे, कुलपति ने ये भी कहा कल की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है, पुलिस ने बर्बरता के साथ छात्रों को डराया, यूनिवर्सिटी में बिना इजाजत पुलिस की एंट्री बर्दाश्त नहीं है, पुलिसिया कार्रवाई से यूनिवर्सिटी को बहुत नुकसान हुआ, अब इसकी भरपायी कौन करेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here