वीडियो देखने के लिये नीचे जाएं
गोपाल फायरिंग से पहले कई बार फेसबुक पर लाइव हुआ, उसने कुछ पोस्ट भी लिखा, जिसमें उसने लिखा कि शाहीन बाग खेल खत्म।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जामिया नगर इलाके में गुरुवार दोपहर सीएए और एनआरसी के खिलाफ मार्च से पहले फायरिंग हुई, दरअसल एक शखिस ने खुले आम हथियार लहराया और फायरिंग की, जिसमें एक शख्स घायल भी हो गया है, फायरिंग करने वाले शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और पूछताछ की जा रही है, धीरे-धीरे उस शख्स की पहचान भी उजागर हो रही है, बताया जा रहा है कि आरोपी ग्रेटर नोएडा के जेवर का रहने वाला है, वो खुद को फेसबुक प्रोफाइल पर रामभक्त गोपाल लिखता है।

फायरिंग से पहले फेसबुक पर लाइव
गोपाल फायरिंग से पहले कई बार फेसबुक पर लाइव हुआ, उसने कुछ पोस्ट भी लिखा, जिसमें उसने लिखा कि शाहीन बाग खेल खत्म, इससे पहले उसने लिखा था कोई हिंदू मीडिया नहीं है यहां, फिर दोपहर 1बजे उसने पोस्ट डाली, मेरी अंतिम यात्रा में मुझे भगवा में ले जाएं और जय श्रीराम के नारे लगाएं, ऐसा बताया जा रहा है कि हमलावर के पिता ग्रेटर नोएडा में पान की दुकान चलाते हैं।

हिरासत में आरोपी युवक
पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरु कर दी है, गोली लगने से घायल छात्र को तुरंत अस्पताल भेजा गया है, बताया जा रहा है कि फायरिंग तब हुआ जब प्रदर्शनकारी शांतिपूर्ण तरीके से राजघाट की ओर मार्च कर रहे थे, तभी गोपाल ने पुलिस की मौजूदगी में फायरिंग कर दी, हालांकि इस दौरान उसे रोकने की कोशिश नहीं की गई

डीसीपी ने दी सफाई
मामले में साउथ दिल्ली के डीसीपी चिन्मय बिस्वाल ने बताया कि पुलिस मामले की जांच में जुटी है, पुलिस की ओर से कोई चूक नहीं हुई है, डीसीपी ने कहा कि उन्होने भीड़ को आगे बढने से रोका था, उनकी मानें तो फिलहाल इस बात की जांच की जा रही है कि युवक कौन है और कहां से आया है।

पुलिस का इस्तेमाल
चर्चित टीवी पत्रकार सुशांत सिन्हा ने ट्विटर पर लिखा है, वीडियो गौर से देखें, तो आपको समझ आएगी इस लड़की की प्लानिंग, इसने बचने के लिये बकायदा पुलिस का इस्तेमाल किया, इसे पता था कि पुलिस से दूर रहते गोली चलाई तो भीड़ पकड़कर कूट देगी, इसलिये ये धीरे-धीरे चलते हुए पुलिस के पास पहुंचे फिर गोली चला दी, ताकि पुलिस पकड़े भीड़ नहीं, वीडियो देखने के लिये नीचे क्लिक करें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here