शुरुआत में युवती के घर वालों ने डॉक्टरों को बताया कि डकैती के दौरान कुछ हथियारबंद बदमाशों ने उनकी बेटी को गोली मार दी है।

यूपी के मेरठ से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, दरअसल यहां एक शख्स ने अपनी बहन के निजी अंग में गोली मारकर हत्या कर दी है, हत्या के बाद घर वालों ने बेटे के जुर्म को छुपाने की भरपूर कोशिश की, हालांकि वो नाकाम रहे, हत्यारे भाई और मामले को छिपाने वाले घर वालों की पोल तब खुल गई, जब लड़की को अस्पताल पहुंचाया गया, रिपोर्ट्स के मुताबिक लड़की को तीन गोली मारी गई है। एक गोली जांघ में मारी गई थी, तो दूसरी निजी अंग में और तीसरी गोली कमर से ठीक ऊपर मारी गई है, इस तरह लड़की की हत्या डॉक्टरों को भी हैरान कर दिया।

डकैतों ने मारी गोली
शुरुआत में लड़की के घर वालों ने डॉक्टरों को बताया कि डकैती के दौरान कुछ हथियारबंद बदमाशों ने उनकी बेटी को गोली मार दी है, अस्पताल से सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई, इसके बाद मामले की जांच शुरु हुई, करीब 3 घंटे तक लड़की के परिजन पुलिस और डॉक्टरों को बरगलाते रहे, लेकिन फिर पुलिस ने उसी समय इस मामले का खुलासा कर दिया।

केस दर्ज
हत्या के आरोप में पीड़िता लड़की के चचेरे भाई प्रशांत और उसके परिजनों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है, मामले में मुख्य आरोपी प्रशांत को बनाया गया है, साथ ही लड़की के माता-पिता और उसके ताऊ को भी मामले को छुपाने और सबूत मिटाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

युवती का प्रेम प्रसंग
पुलिस ने बताया कि मृतका पीड़िता 12वीं की छात्रा थी, गांव के ही एक युवक के साथ उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था, लेकिन लड़की के घर वालों को ये रिश्ता बिल्कुल भी पसंद नहीं था, लड़की के घर के पास ही उसके ताऊ का भी परिवार रहता है, सभी परिजन इस अफेयर के खिलाफ थे। पिछले कुछ दिनों लड़की को घर में कैद करके रखा गया था, उसे बाहर निकलने नहीं दिया जाता था, शनिवार की रात युवती किसी काम से अपने ताऊ के घर गई थी, जहां उसके चचेरे भाई प्रशांत ने उसे इन सब चीजों से दूर रहने की हिदायत दी।

भाई-बहन में हो गया झगड़ा
लेकिन भाई की बात सुनकर युवती बिफर पड़ी, जिसके बाद दोनों ने बीच झगड़ा शुरु हो गया, बताया जा रहा है कि गुस्से में प्रशांत ने बहन को तीन गोलियां मार दी, जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया, परिजन तुरंत बेटी को लेकर अस्पताल दौड़े, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मामले की छानबीन के दौरान घटनास्थल का भी दौरा किया, पुलिस का कहना है कि मौका-ए-वारदात पर काफी खूब बिखरा था, वहां चूड़ियां टूटी हुई थी, जिससे साबित हो रहा है कि लड़ने ने मरने से पहले भाई का विरोध किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here