सुभाष बाथम के एनकाउंटर के बाद सीएम योगी ने बड़ा बयान दिया है, उन्होने बच्चों को सही सलामत छुड़ाने पर खुशी जाहिर की है।

यूपी के फर्रुखाबाद में 23 बच्चों को 11 घंटे तक बंधक बनाकर रखने वाले सिरफिरे को पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया, सिरफिरे शख्स ने डीएम को दिये मांग पत्र में प्रधानमंत्री आवास योजना का घर नहीं मिलने और शौचालय नहीं बनने पर नाराजगी जाहिर की थी, सिरफिरे ने इस पत्र में ग्राम प्रधान समेत सचिव और डीएम को इसके लिये दोषी बताया था, सिरफिरे ने अपनी मांग से जुड़ा पत्र घर के बाहर फेंक दिया था, जिसे डीएम को दे दिया गया।

बच्चों को बनाया बंधक
मालूम हो कि सिरफिरे सुभाष बाथम ने मोहल्ले के 23 बच्चों को अपने घर पर जन्मदिन पार्टी के बहाने बुलाया था, उसके बाद उन्हें बंधक बना लिया, इस दौरान उसने कई राउंड फायरिंग भी की, आईजी रेंज मोहित अग्रवाल ने बताया कि बंधक बच्चों को छुड़ाने के लिये कमांडो बुलाये गये, यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर पीवी रामा शास्त्री ने कहा कि एटीएस की टीम घटना स्थल पर पहुंचने वाले थी, साथ ही दिल्ली से एनएसजी की टीम भी फर्रुखाबाद के लिये रवाना हो गई थी।

पुलिस ने मार गिराया
मामला कोतवाली क्षेत्र के मोहम्दाबाद के कसरिया गांव का है, फायरिंग में थाना प्रभारी समेत सिपाही घायल हो गये हैं, साथ ही एक ग्रामीण के भी घायल होने की सूचना है, डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि हम बच्चों को सही सलामत छुड़ाना चाहते थे, युवक ने 12 से 20 बच्चों को बंधक बना रखा था, कमरे से अंदर से ही फायरिंग कर रहा था, बंधक बनाने वाला शख्स का आपराधिक रिकॉर्ड है, वो एक साल पहले ही जेल से जमानत पर छूटा था।

सीएम योगी का ऐलान
सुभाष बाथम के एनकाउंटर के बाद सीएम योगी ने बड़ा बयान दिया है, उन्होने बच्चों को सही सलामत छुड़ाने पर खुशी जाहिर की है, इसके साथ ही उन्होने इस ऑपरेशन को अंजाम देने वाली पुलिस टीम के लिये 10 लाख रुपये और प्रशस्ति पत्र देने का ऐलान किया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here