सोशल मीडिया पर अर्णब गोस्वामी का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वो बता रहे हैं कि साल 1996 में जब बिहार चुनाव कवरेज के लिये वो पप्पू यादव के पास गये थे।

जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव और अर्णब गोस्वामी किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं, एक चर्चित राजनेता है, तो दूसरा नामी टीवी पत्रकार और रिपब्लिक टीवी के संपादक, एक बार अर्णब गोस्वामी ने सार्वजनिक मंच से आरोप लगाया था कि बिहार के बाहुबली नेता पप्पू यादव ने उन्हें अगवा कर लिया था, हालांकि पूर्व सांसद ने इन आरोपों को बकवास बताया था।

वीडियो वायरल
सोशल मीडिया पर अर्णब गोस्वामी का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें वो बता रहे हैं कि साल 1996 में जब बिहार चुनाव कवरेज के लिये वो पप्पू यादव के पास गये थे, तो उन्हें बंधक बना लिया गया था, आइ ये विस्तार से आपको बताते हैं कि पूरा मामला क्या है।

पप्पू यादव का इंटरव्यू करने गये थे
अर्णब गोस्वामी के मुताबिक वो पप्पू यादव का इंटरव्यू करने गये थे, इंटरव्यू खत्म कर जब वो जाने लगे, तो उन्हें पप्पू यादव के एक आदमी ने रोक लिया और कहा कि वो बिना पप्पू यादव के इजाजत के नहीं जा सकते हैं, अर्णब ने जब अपने कैमरामैन से पूछा कि ये क्या हो रहा है, तो उसने कहा कि वो लोग अगवा किये जा चुके हैं।

घुमाते रहे
रिपब्लिक टीवी के संपादक के मुताबिक करीब डेढ दिन तक वो पप्पू यादव के कब्जे में रहे, इस दौरान पप्पू जहां भी जाते, उन्हें अपने साथ ले जाते, वो छोटी-छोटी सभाएं करते, उन सभाओं के दौरान खुद चारपाई पर बैठते और उन्हें सुनने वाले जमीन पर, अर्णब ने कहा कि पप्पू मेरी ओर इशारा करते हुए लोगों से कहते, ये बीबीसी का पत्रकार है, बीबीसी ने बोला है कि इस बार पूर्णिया से पप्पू यादव जीतेगा, हालांकि वीडियो वायरल होने के बाद जब पप्पू यादव से इस बारे में पूछा गया तो उन्होने इस घटना को पूरी तरह से बकवास कहा।

Read Also – दिल्ली के कॉलेज में मुलाकात, विदेश से लौटकर शादी, जानिये क्या करती है अर्णब गोस्वामी की पत्नी?