Hiralal

डिप्टी एसपी हीरालाल सैनी और महिला कांस्टेबल के अंतरंग पलों के दो वीडियो वायरल होने के बाद महिला के पति ने नागौर जिले के चितावा पुलिस थाने में शिकायत दी थी।

राजस्थान में इन बीते दो दिन दिन से डीएसपी हीरालाल सैनी और महिला कांस्टेबल का स्वीमिंग पूल वाला वीडियो जबरदस्त सुर्खियों में हैं, इन दोनों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई हुई है, साथ ही एक एसएचओ के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है, उसे भी लाइन हाजिर किया गया है, आइये आपको बताते हैं कि आखिर पूरा मामला क्या है।

दो अश्लील वीडियो वायरल
दरअसल डिप्टी एसपी हीरालाल सैनी और महिला कांस्टेबल के अंतरंग पलों के दो वीडियो वायरल होने के बाद महिला के पति ने नागौर जिले के चितावा पुलिस थाने में शिकायत दी थी, dsp hiralal saini (1) उसी मामले में चितावा थानाधिकारी ओमप्रकाश मीणा को लाइन हाजिर किया गया है। आरोप के मुताबिक चितावा एसएचओ महिला कांस्टेबल के पति की शिकायत को दबाकर रखा, मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं की, इस पर नागौर एसपी चितावा थानाधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की, उन्हें 17 सीसीए का नोटिस भी जारी किया गया है।

महिला कांस्टेबल नागौर जिले की
आपको बता दें कि महिला कांस्टेबल जयपुर कमिश्नरेट और हीरालाल सैनी अजमेर जिले के ब्यावर में डीएसपी पद पर तैनात हैं, hiralal saini महिला कांस्टेबल मूल रुप से नागौर जिले की रहने वाली है, इस संबंध में चितावा एसएचओ ओपी मीणा का कहना है कि उनके पास किसी महिला कांस्टेबल के पति का ना तो कोई परिवाद आया है और ना ही चितावा थाने में ऐसा कोई प्रकरण दर्ज हुआ है।

दूसरी बार लाइन हाजिर
नागौर जिले के चितावा एसएचओ का भी गजब सर्विस रिकॉर्ड रहा है, वो 2020 में थाना इलाके की एक युवती से अश्लील बातचीत के ऑडियो वायरल होने के मामले में लाइन हाजिर हुए थे, तब तीन महीने तक लाइन हाजिर करने के बाद फिर सेवा में बहाल हुए, अब महिला कांस्टेबल और डीएसपी केस में लाइन हाजिर हो गये हैं।

Read Also- दहेज नहीं लाने पर पत्नी के नाजुक अंग को सिगरेट से दागा, बीयर की बोतल डाल दी