couple2

चलिये आपको बताते हैं कि वैवाहिक जीवन की शुरुआत कैसे सही तरीके से करनी चाहिये, किन गलतियों से बचना चाहिये।

शादी का दिन हर दंपत्ति के लिये उनकी जिंदगी का सबसे खास और यादगार दिन होता है, शादी को लेकर पुरुषों तथा महिलाओं में अलग-अलग अपेक्षाएं और धारणाएं होती है, अपने आगामी दांपत्य जीवन को लेकर हर कोई उत्सुक रहता है, बेहतर शुरुआत करना चाहता है, तो चलिये आपको बताते हैं कि वैवाहिक जीवन की शुरुआत कैसे सही तरीके से करनी चाहिये, किन गलतियों से बचना चाहिये।

सेक्स की उम्मीद
ज्यादा महिलाओं के लिये शादी का दिन बेहद थका देने वाला होता है, जिसमें भावनात्मक रुप से भी थकान महसूस होने का अनुभव होता है, लड़कियों को ब्राइडल ड्रेस समेत तमाम चिंताओं से गुजरना पड़ता है, couple2 (1) लेकिन मजाक से अलग शादी के दिन दूल्हा और दुल्हन थके हो सकते हैं कि इसलिये बेहतर होगा कि आप शादी की रात सेक्स के बजाय रीकनेक्ट होने पर ध्यान दें, एक-दूसरे से बातचीत करें, आराम करें।

शरीर के बारे में सोचना बंद करें
शादी के दिन अपनी बॉडी के बारे में ज्यादा ना सोचें, आप अपनी ब्राइडल ड्रेस की फिटिंग को लेकर परेशान हो सकती हैं, या फिर पार्टनर के साथ परफेक्ट दिखने की चिंता हो सकती है, couple (1) शरीर पर इतना ध्यान देने से एन्जाइटी होगी, जो उस खास दिन को बर्बाद कर सकता है। अगर आप शादी की रात इंटीमेट हो रहे हैं, तो इसका बुरा असर वहां भी पड़ेगा।

इन चीजों की रखें तैयारी
शादी की रात ऐसी बहुत सी चीजें होती है, जो खराब हो जाती है, आपको एलर्जी हो सकती है, तेज सिरदर्द हो सकता है, डाइजेशन की परेशानी हो सकती है, या आप अपनी दवाएं लेना भी भूल सकते हैं। Bride ऐसी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिये अपने साथ मेडिकल किट जरुर रखें, आप किसी दोस्त या रिश्तेदार की निगरानी में इसे रख सकते हैं, ताकि जरुरत पड़ने पर आपको आसानी से ये चीजें मिल सके।

नेगेटिव फीडबैक ना दें
वैज्ञानिक रुप से भी ये साबित हो चुका है, कि सकारात्मक विचार, शब्द और व्यवहार पार्टनर के साथ आपका रिश्ता मजबूत बनाने में मददगार साबित होते हैं, 470 कपल्स पर हुए एक सर्वे के आधार पर यूनिवर्सिटी ऑफ जेनेवा के साइकोलॉजिस्ट मार्सेल जेंटनर ने पाया कि bride 2 रोमांस को बरकरार रखने के लिये पर्सनालिटी का कोई खास काम्बिनेशन नहीं होता है, हमें उन तमाम चीजों का जिक्र करने से बचना चाहिये, जो पार्टनर, उसके दोस्त या रिश्तेदारों की गलतियों को उजागर करती है, मन में सकारात्मक विचार रखें और सुनिश्चित करें, कि आपके पास कहने के लिये कुछ अच्छा हो।

मेमोरी क्रिएट करना ना भूलें
शादी के दिन फोटोग्राफर और रिश्तेदार आपके हर कदम को रिकॉर्ड करते हैं, ये सभी यादें आपको तस्वीरों और वीडियोज के रुप में उम्रभर सहेजकर रखनी है, आप कुछ खास मेमोरीज भी बना सकते हैं, जो हमेशा याद दिलाती रहेंगी कि आपने अपने पार्टनर से शादी क्यों की है, आगे चलकर यदि रिश्ते में किसी वजह से खटास आती है, तो ये चीजें बड़ी काम आएंगी।

Read Also – समलैंगिक पति का अजीब करतूत, दोस्त बुलाकर पत्नी के साथ करवाता था ‘गंदा काम’