Tuesday, May 11, 2021

एक कान से सुन नहीं पाता है टीम इंडिया का ये क्रिकेटर, रहाणे ने खेला बड़ा दांव!

वॉशिंगटन सुंदर ने क्रिकेट पर पूरी तरह ध्यान लगाया, 2016 में तमिलनाडु रणजी टीम में चुने गये, इसके बाद अंडर 19 विश्वकप, फिर आईपीएल में भी जगह बनाने में कामयाब रहे।

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान टिम पेन ने टीम इंडिया के खिलाफ गाबा में खेले जा रहे चौथे तथा आखिरी टेस्ट मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया, इस टेस्ट में टीम इंडिया की ओर से दो खिलाड़ियों ने अपना डेब्यू किया है, टी नटराजन भारत के 300वें तथा वॉशिंगटन सुंदर को 301 टेस्ट खिलाड़ी के रुप में टेस्ट कैप मिला।

एक कान से सुन पाते हैं
दिसंबर 2017 में श्रीलंका के खिलाफ इंटरनेशनल क्रिकेट में वनडे तथा टी-20 में डेब्यू किया था, उस समय सुंदर की उम्र 18 साल 69 दिन थी, अब 21 साल की उम्र में उन्होने टेस्ट डेब्यू किया था, सुंदर सिर्फ एक कान से ही सुन पाते हैं, सुंदर अपनी इस कमजोरी के बारे में पहले इंटरव्यू में जिक्र चुके हैं। बायें हाथ से बल्लेबाजी तथा दाहिने हाथ से गेंदबाजी करने वाले सुंदर जब 4 साल के थे, तो परिवार को उनकी परेशानी का पता चला, उनका कई अस्पतालों में इलाज चला, लेकिन ये परेशानी ठीक नहीं।

टीम इंडिया में जगह
वॉशिंगटन सुंदर ने क्रिकेट पर पूरी तरह ध्यान लगाया, 2016 में तमिलनाडु रणजी टीम में चुने गये, इसके बाद अंडर 19 विश्वकप, फिर आईपीएल में भी जगह बनाने में कामयाब रहे, इसके बाद उन्होने टीम इंडिया में जगह बनाई, वो अब तक भारतीय टीम के लिये 1 वनडे तथा 26 टी-20 मैच खेल चुके हैं।

सुनने में परेशानी
वॉशिंगटन सुंदर ने एक इंटरव्यू में बताया था कि फील्डिंग के दौरान उनके साथियों को उनकी इस परेशानी की वजह से दिक्कत होती है, लेकिन वो कभी इसके लिये शिकायत नहीं करते हैं, वो मेरी कमजोरी को लेकर मुझे कुछ नहीं कहते, बल्कि मेरी मदद ही करते हैं।

Read Also – विराट कोहली के खिलाफ इमरान खान की जीत, ब्रेकिंग दिखा जबरदस्त ट्रोल हो रहे चैनल!

Related Articles

- Advertisement -spot_img

Latest Articles