team8

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के लिये सुंदर की जगह ऑफ स्पिनर जयंत यादव को मौका दिया गया है, जयंत भी सुंदर जैसी क्षमता के ही खिलाड़ी हैं।

टीम इंडिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला 26 दिसंबर से सेंचुरियन में खेला जाएगा, सेंचुरियन में पहला टेस्ट भारतीय समय के मुताबिक दोपहर 1.30 बजे शुरु होगा, इस टीम में कई युवा खिलाड़ियों को मौका मिला है, जबकि कुछ पुराने खिलाड़ियों की भी वापसी हुई है, एक खिलाड़ी ऐसा बदकिस्मत रहा, जिसको सलेक्टर्स ने पूछा तक नहीं, एक छोटी सी चोट उसका करियर बर्बाद कर रही है, ये खिलाड़ी कोई और नहीं बल्कि ऑफ स्पिनर और ऑलराउंडर वॉशिंगटन सुंदर हैं, सुंदर की जगह सीरीज में ऑफ स्पिनर जयंत यादव को मौका मिला है।

छोटी सी चोट बर्बाद कर रही करियर
टीम इंडिया के युवा ऑलराउंडर वॉशिंगटन सुंदर को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 मैचों की टेस्ट सीरीज के लिये जगह नहीं दी गई है, इससे पहले इस खिलाड़ी को न्यूजीलैंड के खिलाफ भी टी-20 और टेस्ट सीरीज के लिये नहीं चुना गया था, दरअसल सुंदर को इसी साल अगस्त में इंग्लैंड दौरे पर चोट लगे थे, जिसके बाद आईपीएल के दूसरे हाफ और टी-20 विश्वकप से बाहर हो गये थे, हालांकि टी-20 विश्वकप के बाद भी उन्हें मौका नहीं मिला, जाहिर है कि इस लंबे अंतराल के बाद सुंदर फिट हो चुके होंगे, लेकिन फिर भी न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज और उसके बाद दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिये उन्हें जगह नहीं दी गई।

इस खिलाड़ी को मौका
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 3 टेस्ट मैचों की सीरीज के लिये सुंदर की जगह ऑफ स्पिनर जयंत यादव को मौका दिया गया है, जयंत भी सुंदर जैसी क्षमता के ही खिलाड़ी हैं, वो निचले क्रम में आकर रन बना सकते हैं और ऑफ स्पिन गेंदबाजी करते हैं, जयंत को इससे पहले न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज में भी मौका दिया गया था, भारत को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 26 दिसंबर से 3 टेस्ट मैच शुरु होने हैं, चयनकर्ताओं ने कुछ दिनों पहले ही इस सीरीज के लिये 18 सदस्यीय टीम का ऐलान किया था, जडेजा और अक्षर पटेल चोटिल होने की वजह से टीम का हिस्सा नहीं हैं, भारत ने अश्विन के साथ जयंत यादव को स्पिनर के रुप में शामिल किया है।

आकाश चोपड़ा ने उठाये सवाल
टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने अपने यू-ट्यूब चैनल पर कहा, मुझे आश्चर्य है कि कोई इस बारे में बात क्यों नहीं कर रहा, क्योंकि आपके सभी स्पिनर चोटिल हैं, जडेजा चोटिल हैं, अक्षर चोटिल हैं, वैसे भी आप टेस्ट क्रिकेट में कोई लेग स्पिनर नहीं खिलाते हैं, कुलदीप यादव को वापस नहीं लाना चाहते हैं, मुंबई टेस्ट में जयंत ने अच्छा किया, आपने इसी वजह से उन्हें बरकरार रखा, लेकिन सिर्फ जयंत और अश्विन ही दो ऑफ स्पिनर हैं, आपने वॉशिंगटन के बारे में सोचा भी नहीं, अगर आपको बैलेंस के लिये 3 तेज गेंदबाज और 2 स्पिनर खिलाने पड़ गये, तो सुंदर जडेजा की जगह आसानी से फिट हो जाते।

नहीं चुने जाने से हैरान
चोटिल होने से पहले वॉशिंगटन सुंदर ने टेस्ट टीम में अच्छा किया था, अब वो पूरी तरह फिट भी हो गये हैं, लेकिन उन्हें क्यों नहीं टीम में चुना गया, इसका जवाब किसी ने नहीं दिया, आकाश चोपड़ा ने कहा, किसी ने ये भी नहीं बताया कि वो चोटिल हैं, या अनुपलब्ध हैं, या उसे क्यों नहीं चुना गया, ये ठीक नहीं है, मुझे लगता है वॉशिंगटन सुंदर के बारे में चर्चा होनी चाहिये थी, अगर उन्हें नहीं चुना गया, तो सार्वजनिक रुप से स्पष्टीकरण दिया जाना चाहिये था, जितना अधिक आप लोगों को सूचित करेंगे, उतना ही बेहतर होगा, और आप और मैं इस बारे में कम ही बात करेंगे।

Read Also – पाक के बाद जापान को भी टीम इंडिया ने चटाई धूल, हॉकी इंडिया ने रचा इतिहास