विराट कोहली ने मैच खत्म होने के बाद कहा कि एक समय तो हमें लगा कि मैच हमारे हाथ से निकल चुका है, मैंने अपने कोच से कहा कि वो जीत के हकदार थे।

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली को आखिरी तक लड़ने वाला क्रिकेटर माना जाता है, विराट आखिरी गेंद तक हार नहीं मानते, लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ हैमिल्टन में विराट ने एक समय हार मान ली थी, भारतीय कप्तान ने हैमिल्टन में खेले गये तीसरे टी-20 मुकाबले में जीत के बाद कहा कि न्यूजीलैंड की टीम ने शानदार खेल दिखाया, वो जीत के हकदार थे।

विलियमसन के मुरीद
विराट कोहली ने मैच खत्म होने के बाद कहा कि एक समय तो हमें लगा कि मैच हमारे हाथ से निकल चुका है, मैंने अपने कोच से कहा कि वो जीत के हकदार थे, केन विलियमसन ने 95 के स्कोर पर जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहे थे, उससे बुरा लग रहा था, अंतिम गेंद पर हमने चर्चा की, फिर इस निर्णय पर पहुंचे कि हमें गेंद स्टंप पर मारनी होगी, क्योंकि अगर हम ऐसा नहीं कर सके, तो वैसे भी एक रन बन जाता, हालांकि शमी के बेहतरीन ओवर से मैच सुपरओवर में पहुंच गया, शमी ने अपने आखिरी ओवर में सिर्फ 8 रन देकर विलियमसन और टेलर को आउट किया।

सुपरओवर का रोमांच
सुपरओवर में किवी कप्तान केन विलियमसन और मार्टिन गप्टिल ने बुमराह जैसे गेंदबाज के खिलाफ 17 रन बना दिये, हालांकि रोहित शर्मा की पावर हिटिंग ने न्यूजीलैंड से मैच छीन लिया, टीम इंडिया को आखिरी दो गेंदों में 10 रनों की जरुरत थी, रोहित ने दो छक्के लगाकर जीत दिला दी, साथ ही पहली बार न्यूजीलैंड की धरती पर सीरीज भी जिता दिया। मैच के बाद कप्तान ने रोहित शर्मा की तारीफों के पुल बांधे, उन्होने कहा कि रोहित ने हमारी पारी और अंतिम दो गेंदों पर शानदार बल्लेबाजी की, हमें पता था कि अगर वो एक शॉट खेल लेगा, तो गेंदबाज पर दबाव आ जाएगा।

अगले दो मैचों में टीम में बदलाव
टी-20 सीरीज में 3-0 से अजेय बढत हासिल करने के बाद विराट कोहली ने संकेत दिये कि बाकी बचे दो मैचों में बेंच स्ट्रेंथ को आजमाया जा सकता है, विराट ने कहा कि कुछ अन्य खिलाड़ियों को मैच में खेलने का मौका देना भी महत्वपूर्ण है, हम देखना चाहते हैं कि इन हालात में वो कैसा प्रदर्शन करते हैं, खासकर वॉशिंगटन सुंदर या नवदीप सैनी जैसा खिलाड़ी, अब दोनों टीमों के बीच चौथा टी-20 शुक्रवार को वेलिंटगन में खेला जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here