Vinesh phogat

भारतीय ओलंपिक संघ के सूत्रों का दावा है कि इस मुद्दे को सुलझा लिया गया है, वो आज बुधवार को टोक्यो पहुंच जाएगी।

टोक्यो ओलंपिक में भारत की सबसे बड़ी पदक उम्मीदों में से एक महिला पहलवान विनेश फोगाट मंगलवार को फ्रैंकफ्रर्ट से टोक्यो के लिये अपनी उड़ान नहीं ले पायी, उनके यूरोपीय संघ के वीजा की अवधि 1 महीने पहले ही खत्म हो गयी थी, खेलों से पहले हंगरी में अपने कोच वॉसर अकोस के साथ ट्रेनिंग ले रही विनेश को मंगलवार रात तक टोक्यो पहुंचना था लेकिन उन्हें विमान में चढने से पहले फ्रैंकफर्ट हवाई अड्डे पर रोक दिया गया।

आज पहुंच जाएगी
भारतीय ओलंपिक संघ के सूत्रों का दावा है कि इस मुद्दे को सुलझा लिया गया है, वो आज बुधवार को टोक्यो पहुंच जाएगी, सूत्र ने बताया कि ये एक भूल थी और जानबूझकर ऐसा नहीं किया गया था, उनका वीजा 90 दिनों के लिये मान्य था, लेकिन बुडापेस्ट से फ्रैंकफर्ट पहुंचने पर पता चला कि वो 91 दिनों के लिये यूरोपीय संघ में थी, सूत्र ने कहा कि भारतीय खेल प्राधिकरण ने इस मामले को तेजी से उठाया, जिसके बाद फ्रैंकफर्ट से भारतीय वाणिज्य दूतावास मामले को सुलझाने के लिये हवाई अड्डे पर पहुंच गया।

कोविड जांच
विनेश फोगाट ने इन खेलों के लिये फिजियो के एक्रीडिटेशन की मांग की थी, वो मंगलवार रात फ्रैंकवर्ट हवाई अड्डे के पास एक होटल में रुकी, उन्होने हवाई अड्डे पर ताजा आरटी-पीसीआर जांच भी करवाई है, इस बारे में स्थानीय आयोजन समिति को सूचित किया गया है, टोक्यो हवाई अड्डे पर उनकी दोबारा कोरोना जांच की जाएगी।

मेडल की दावेदार
महिला पहलवान विनेश फोगाट को 53 किलोग्राम महिला फ्रीस्टाइल वर्ग में स्वर्ण पदक की दावेदार के रुप में देखा जा रहा है, वो इस वर्ग में शीर्ष वरीयता प्राप्त हैं, उनकी प्रतियोगिताएं 5 अगस्त से शुरु होगी, अगर वो आज पहुंच जाती है, तो फिर ज्यादा परेशानी नहीं होगी।

Read Also – टोक्यो ओलंपिक में भारत को पहला गोल्ड, प्रिया मलिक को बधाई देने में बड़ी गलती कर रहे यूजर्स