जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर और नवदीप सैनी ने शानदार गेंदबाजी की, तीनों ने लगातार अंतराल पर विकेट गिराये।

टीम इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच खेले गये पांच मैचों की सीरीज का आखिरी टी-20 जीतकर भारतीय टीम ने इतिहास रच दिया है, भारतीय क्रिकेट इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब टीम इंडिया ने किवी धरती पर सीरीज में व्हाइटवॉश किया है, आखिरी मुकाबला भारतीय टीम ने 7 रनों से जीता।

भारतीय बल्लेबाजी
टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए किवी टीम के सामने 164 रनों का लक्ष्य रखा, केएल राहुल ने 45 और कप्तान रोहित शर्मा ने 60 (रिटायर्ड हर्ट) की पारी खेली, रोहित घुटने में चोट की वजह से रिटायर्ड हर्ट हो गये, युवा बल्लेबाज संजू सैमसन को आज रोहित की जगह ओपनिंग में मौका दिया गया था, लेकिन वो 5 गेंदों में सिर्फ दो रन ही बना सके। इसके बाद राहुल और रोहित ने 88 रनों की साझेदारी कर पारी को संभाला।

न्यूजीलैंड की खराब शुरुआत
164 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम की शुरुआत बेहद खराब रही, उनके शीर्ष तीन बल्लेबाज 17 रनों पर ही पवेलियन लौट गये, इसके बाद टेलर और सिफर्ट के बीच अच्छी साझेदारी (99 रन) होने लगी, दोनों ने शिवन दूबे के ओवर में 34 रन लूटकर उन्हें टी-20 इतिहास का सबसे महंगा भारतीय गेंदबाज बना दिया, हालांकि इसके बावजूद जीत हासिल नहीं कर सके।

बुमराह और सैनी की शानदार गेंदबाजी
जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर और नवदीप सैनी ने शानदार गेंदबाजी की, तीनों ने लगातार अंतराल पर विकेट गिराये, जिसकी वजह से टीम इंडिया इतिहास रच सकी, अब टी-20 के बाद वनडे सीरीज खेला जाना है, जिसका पहला मुकाबला 5 फरवरी को होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here