सीरीज जीत के साथ बढ गई विराट कोहली की टेंशन, अब शास्त्री भी नहीं बचा पाएंगे

0
1279

विराट कोहली के लिये सबसे बड़ी परेशानी खड़ी कर दी है सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने।

श्रीलंका के खिलाफ तीसरे टी-20 में टीम इंडिया ने एकतरफा जीत हासिल की, भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट पर 201 रन बनाये, जवाब में मेहमान टीम 123 रनों पर ढेर हो गई, और 78 रनों से मुकाबला हार गई, टीम इंडिया ने सीरीज तो जीत ली, लेकिन इस जीत के साथ ही कप्तान विराट कोहली की टेंशन बढ गई, क्योंकि अब कप्तान दुविधा में फंस गये है कि आखिरी टी-20 विश्वकप टीम में किसे मौका दिया जाए और किसे बाहर रखा जाए।

धवन का धमाका
विराट कोहली के लिये सबसे बड़ी परेशानी खड़ी कर दी है सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने, गब्बर ने पुणे में 36 गेंदों में 52 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली, इस मैच से पहले उनके स्थान पर सवाल खड़े हो रहे थे, कहा जा रहा था कि विश्वकप में रोहित के साथ राहुल ओपनिंग कर सकते हैं, अब धवन की पारी ने विराट की टेंशन बढा दी है, कि आखिर रोहित के साथ धवन और राहुल में से किसी मौका दिया जाए।

मनीष पांडे ने दिखाया दम
मनीष पांडे पिछली 4 सीरीज से बेंच पर बैठे थे, या तो साथियों को पानी पिला रहे थे, जरुरत पड़ने पर फील्डिंग के लिये मैदान पर भी आते थे, पुणे टी-20 में उन्हें मौका दिया गया, जिसका फायदा उठाते हुए उन्होने 18 गेंदों में नाबाद 31 रनों की पारी खेली, इसके बाद फील्डिंग में अपना जलवा दिखाया, ओशादा फर्नान्डो को रन आउट किया, फिर एंजेलो मैथ्यूज का जबरदस्त कैच लपका, टी-20 में पांडे का औसत 40 से ज्यादा है, ऐसे में उन्हें नजरअंदाज नहीं किया जा सकता।

शार्दुल ठाकुर बने हीरो
दो सीरीज पहले टीम से बाहर रहने वाले शार्दुल ठाकुर भी हीरो बनकर सामने आये है, दरअसल दीपक चाहर को चोट लगी, तो शार्दुल को मौका दिया गया, वेस्टइंडीज के खिलाफ उन्होने अहम मुकाबले में 17 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई, फिर गेंद से भी खुद को साबित किया, श्रीलंका के खिलाफ भी शार्दुल ने 8 गेंदों में 22 रन बनाये, विराट की सोच है कि उनकी टीम में ऐसे गेंदबाज होने चाहिये, जो जरुरत के समय बल्लेबाजी भी कर सकें, कप्तान की कसौटी पर शार्दुल बिल्कुल खरे उतरते दिख रहे हैं।

सैनी मैन ऑफ द सीरीज
दायें हाथ के तेज गेंदबाज ने अपनी रफ्तार से विरोधियों के हौसले पस्त कर दिये, श्रीलंका के खिलाफ उन्हें मैन ऑफ द सीरीज चुना गया, सैनी ने अपनी यॉर्कर, बाउंसर और स्लोअर गेंदों से सभी क्रिकेट पंडितों का ध्यान अपनी ओर खींचा, अब उनका नाम टी-20 विश्वकप के संभावित खिलाड़ियों में लिया जा रहा है।

संजू सैमसन 
विराट के लिये एक सिरदर्द संजू सैमसन भी हैं, जो पिछले कई मैचों से बेंच पर बैठे दिखते थे, पुणे टी-20 में उन्हें मौका मिला, पहली ही गेंद पर छक्का लगाकर उन्होने अपनी काबिलियत दिखाने की कोशिश की, हालांकि अगली ही गेंद पर वो आउट भी गये, लेकिन संजू के शॉट पर विराट ने जिस अंदाज में रिएक्ट किया, वो देखने लायक था, विकेट के पीछे भी सैमसन ने शानदार फील्डिंग की, कहा जा रहा है कि पंत को सैमसन चुनौती दे सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here