टी-20 विश्वकप फाइनल में कंगारु विकेटकीपर बल्लेबाज ने सिर्फ 30 गेंदों में शानदार अर्धशतक लगाया।

आईसीसी महिला टी-20 विश्वकप फाइनल में ऑस्ट्रेलियाई सलामी बल्लेबाज एलिसा हीली ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी कर भारत से मैच छीन लिया, हीली ने टीम इंडिया के खिलाफ खिताबी मुकाबले में सिर्फ 39 गेंदों में ही 75 रन कूट दिये, उन्होने अपनी इस पारी के दौरान 7 चौके और 5 छक्के लगाये, यानी 58 रन उन्होने सिर्फ बाउंड्री से ही हासिल कर लिया, इसके साथ ही उन्होने कई बड़े रिकॉर्ड्स भी अपने नाम किये।

हीली ने बनाया विश्व रिकॉर्ड
टी-20 विश्वकप फाइनल में कंगारु विकेटकीपर बल्लेबाज ने सिर्फ 30 गेंदों में शानदार अर्धशतक लगाया, इसके साथ ही उन्होने किसी भी आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में सबसे तेज अर्धशतक लगाने का विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया, उनसे पहले ये रिकॉर्ड टीम इंडिया के ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या के नाम था, जिन्होने 2017 चैपियंस ट्रॉफी फाइनल में पाक के खिलाफ 32 गेंदों में अर्धशतक लगाया था।

सबसे बड़ी पारी
एलिसा हीली के नाम महिला टी-20 विश्वकप फाइनल में सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया है, उन्होने हेली मैथ्यूज का रिकॉर्ड तोड़ा, जिन्होने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2016 टी-20 विश्वकप फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ही 66 रनों की पारी खेली थी।

75 से ज्यादा का स्कोर
विकेटकीपर बल्लेबाज ने तीसरी बार टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 75 या उससे ज्यादा का स्कोर बनाया है, ये कारनामा करने वाली वो पहली महिला विकेटकीपर है, अगर पुरुषों की बात करें, तो 75 से ज्यादा का स्कोर चार बार मोहम्मद शहजाद ने किया है, इसके साथ ही एलिसा ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में 5 छक्के लगाने का रिकॉर्ड बनाया, वो ऐसा करने वाली पहली महिला और दूसरी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर हैं, मेलबर्न में टी-20 मैच में सबसे ज्यादा छक्के लगाने का रिकॉर्ड डेविड वॉर्नर (6 छक्के) के नाम दर्ज है।

पति भी पहुंचे थे
एलिसा की इस विस्फोटक बल्लेबाजी को देखने के लिये उनके पति मिचेल स्टार्क भी दक्षिण अफ्रीका से फ्लाइट लेकर मेलबर्न पहुंचे थे, हीली ने अपने पति को निराश नहीं किया और मैदान के चारों तरफ रनों की बारिश कर दी, अपनी पत्नी की पारी को तेज गेंदबाज ने भी खूब एंजॉय किया, वो स्टेडियम में बैठकर बीयर पीते दिखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here