‘केएल राहुल से विकेटकीपिंग कराना खराब, टीम इंडिया को पड़ेगी भारी’

0
478
Loading...

विकेटकीपिंग एक विशेषज्ञतापूर्ण काम है, इसमें जरा सी भी गलती भारी पड़ सकती है, खुदा ना करे अगर विकेटकीपिंग के दौरान केएल राहुल को चोट लग गई, तो फिर ये टीम इंडिया के लिये बड़ा झटका होगा।

टीम संतुलन के लिये सलामी बल्लेबाज केएल राहुल को विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी सौंपने के फैसले को पूर्व विकेटकीपर सैयद किरमानी ने खतरनाक बताया है, उन्होने इसे तलवार की धार पर चलने जैसा बताया है, किरमानी ने भाषा से बात करते हुए कहा कि ये सही है कि केएल राहुल इस समय एक विकेटकीपर की जरुरत को पूरा कर रहे हैं, लेकिन ये उनके साथ-साथ टीम के लिये भी तलवार की धार पर चलने जैसा है, राहुल टीम के लिये मूल्यवान खिलाड़ी हैं, वो किसी भी क्रम पर बल्लेबाजी कर सकते हैं।

विकेटकीपिंग विशेषज्ञतापूर्ण काम
सैयद किरमानी ने कहा कि विकेटकीपिंग एक विशेषज्ञतापूर्ण काम है, इसमें जरा सी भी गलती भारी पड़ सकती है, खुदा ना करे अगर विकेटकीपिंग के दौरान केएल राहुल को चोट लग गई, तो फिर ये टीम इंडिया के लिये बड़ा झटका होगा, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज में जब पंत चोटिल हो गये, तो राहुल ने पहली बार इंटरनेशनल क्रिकेट में कीपर के दस्ताने पहने थे।

राहुल ने बंद किये पंत के रास्ते
किरमानी ने कहा कि राहुल ने पहले वनडे में विकेटकीपिंग से प्रभावित किया था, जिसके बाद कप्तान ने उन्हीं पर भरोसा जताया, और पंत के लिये रास्ते बंद हो गये, केएल राहुल की कीपिंग की जिम्मेदारी संभालने से टीम को एक अतिरिक्त खिलाड़ी खिलाने का मौका भी मिल जाता है।

राहुल की चोट टीम को पड़ेगा भारी
पूर्व क्रिकेटर से सवाल पूछा गया कि राहुल बतौर विकेटकीपर टीम में हों, तो टीम के पास एक अतिरिक्त बल्लेबाज या गेंदबाजद खिलाने का मौका मिलता है, तो उन्होने कहा कि अगर टीम में पांच बल्लेबाज और एक ऑलराउंडर मिलकर मुश्किल मैच में टीम को नहीं जीता सकेगे, तो क्या एक अतिरिक्त बल्लेबाज या गेंदबाज खिलाने से ज्यादा फर्क पड़ जाएगा, अहम बात ये है कि राहुल का चोटिल होना टीम को बहुत भारी पड़ेगा।

धोनी की खामोशी समझ से परे
पूर्व चयनकर्ता ने कहा कि ऐसा नहीं है कि भारत के अच्छे विकेटकीपर बल्लेबाज के विकल्प नहीं हैं, टीम में ऋषभ पंत हैं ही, इसके अलावा दिनेश कार्तिक और ऋद्धिमान साहा भी मौजूद हैं, विकेटकीपिंग जैसा विशेषज्ञतापूर्ण काम किसी माहिर को ही सौंपा जाना चाहिये, फिर उनसे पूछा गया कि टीम में पंत की मौजूदगी और राहुल को बतौर विकेटकीपर इस्तेमाल करना क्या धोनी के लिये टीम के दरवाजे बंद हो गये हैं, तो किरमानी ने कहा कि उनकी खामोशी समझ से परे हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here