Friday, April 23, 2021

टीम में अपना नाम देख रोने लगे सूर्यकुमार यादव, रोहित के साथ पहली बार खेलते हुए थे नर्वस!

सूर्यकुमार ने बीसीसीआई को फोन पर बताया, सपने सच होते हैं, उत्साह के कारण ये कहते हुए स्टार बल्लेबाज की आवाज बबल हो रही थी।

सूर्य कुमार यादव खुद के टीम इंडिया में चुने जाने की खबर सुनकर रोने लगे थे, आईपीएल में मुंबई इंडियंस के स्टार बल्लेबाज ने शुक्रवार को खुद ये खुलासा किया, उन्होने बीसीसीआई के साथ बातचीत में ये बात बताई, उन्होने कहा कि अपने चयन के बारे में और जिन चीजों को लेकर वो उम्मीद करते हैं, जैसे मामलों पर अपने विचार साझा किये।

सपने सच होते हैं
सूर्यकुमार ने बीसीसीआई को फोन पर बताया, सपने सच होते हैं, उत्साह के कारण ये कहते हुए स्टार बल्लेबाज की आवाज बबल हो रही थी, उन्होने कहा कि चयन के बारे में पता चलने पर मैं काफी उत्साहित था, मैं कमरे में बैठकर फिल्म देख रहा था, तभी फोन पर सूचना मिली, कि मुझे इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज के लिये टीम इंडिया में चुन लिया गया है, मैं टीम में अपना नाम देखकर रोने लगा, मैंने अपने माता-पिता, अपनी पत्नी और अपनी बहन को फोन किया, हमने आपस में वीडियो कॉल की और हम सभी रोने लगे।

सपने को जीने की कोशिश
सूर्य ने कहा कि मेरे साथ-साथ मेरे परिवार वाले भी लंबे समय से इस सपने को जीने की कोशिश कर रहे हैं, ये एक बहुत लंबी यात्रा रही है, मेरा परिवार हमेशा मेरे साथ खड़ा था, उन्हें खुश देखना और उन खुशी के आंसूओं को देखना वास्तव में बहुत अच्छा था। विराट की कप्तानी में खेलने के बारे में पूछे जाने पर बल्लेबाज ने जवाब दिया, सबसे पहले मैं टीम के साथ कुछ खास पल बिताने के लिये उत्सुक हूं, मैंने हमेशा से विराट कोहली की कप्तानी में खेलने का सपना देखा है, मैं विराट से बहुत कुछ सीखने के लिये उत्साहित हूं, ताकि मैं एक बेहतर खिलाड़ी बन सकूं।

रोहित को देख नर्वस
रोहित के बारे में पूछे जाने पर सूर्य कुमार ने कहा, मुझे अब भी वो याद है, जब मैं उनके साथ रणजी ट्रॉफी में डेब्यू किया था, जब मैं बल्लेबाजी के लिये ड्रेसिंग रुम से निकला, तो बहुत नर्वस था, इस पर वो मेरे पास आये, उन्होने मुझसे कहा, दोस्त बस चीजों को बिल्कुल सिम्पल रखो, यहां तक पहुंचने के लिये आपने बहुत मेहनत की है, आपको बस बाहर जाना है, और खुद को बताना है, बिना कुछ सोचे समझे, बस अपने आप को एक्सप्रेस करो। सूर्य ने कहा कि ये देखना आश्चर्यजनक है, कि खेल के प्रति रोहित का दृष्टिकोण या उनकी बल्लेबाजी या युवा क्रिकेटर्स के लिये उनकी सलाह अभी भी नहीं बदली है, आज भी वो मुझे वही बात कहते हैं, वास्तव में उनकी मौजूदगी ने मेरी बहुत मदद की, रोहित की कप्तानी में खेलने के बाद मैंने उनके और उनके खेल के बारे में कई चीजें सीखी, कैसे वो चीजों को बहुत सरल रखते हैं, उनको खेल की सूक्ष्म समझ है।

Read Also – विराट कोहली के खिलाफ इमरान खान की जीत, ब्रेकिंग दिखा जबरदस्त ट्रोल हो रहे चैनल!

Related Articles

- Advertisement -spot_img

Latest Articles