पूर्व चयनकर्ता ने विराट कोहली ही नहीं बल्कि पूर्व कप्तान धोनी पर भी बड़ा बयान दिया है, उन्होने कहा कि उनके कार्यकाल में सबसे बड़ी चुनौती धोनी और युवराज सिंह जैसे बड़े खिलाड़ियों का विकल्प तलाशना था।

टीम इंडिया न्यूजीलैंड दौरे से लौट चुकी है, वनडे और टेस्ट सीरीज में शर्मनाक हार के बाद कप्तान विराट कोहली पर सवाल उठने लगे हैं, कई दिग्गजों ने विराट की कप्तानी पर सवाल खड़े किये, जिसके बाद पूर्व मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद से एक इंटरव्यू में सवाल पूछा गया कि क्या रोहित शर्मा को एक फॉर्मेट में कप्तानी सौंप दी जानी चाहिये, इस पर पूर्व चयनकर्ता ने अपनी राय रखी है।

रोहित को एक प्रारुप में कप्तानी
एमएसके प्रसाद ने इंडियन एक्सप्रेस को दिये खास इंटरव्यू में कहा कि विराट कोहली ने पिछले कुछ सालों में टीम इंडिया की शानदार कप्तानी की है, उन्होने हर प्रारुप में जीत प्रतिशत ऊंचा रखा है, रोहित का भी बतौर कप्तान रिकॉर्ड अच्छा है, जब भी उन्हें मौका मिला, उन्होने खुद को साबित किया है। पूर्व चयनकर्ता ने आगे कहा कि मुझे नहीं लगता कि विराट कोहली की फॉर्म का कप्तानी से कुछ लेना-देना है, क्योंकि तीनों प्रारुप में उन्होने पिछले तीन सालों में जबरदस्त प्रदर्शन किया है, आप सिर्फ एक सीरीज की वजह से उन पर सवाल खड़े नहीं कर सकते, आखिर वो भी तो इंसान हैं, करियर में एक खराब सीरीज भी आती है, एमएसके प्रसाद ने साफ कहा कि रोहित अच्छे कप्तान हैं, लेकिन फिलहाल विराट तीनों फॉर्मेट में अच्छी कप्तानी कर रहे हैं, और ऐसे में उन्हें बदलने की जरुरत नहीं है।

धोनी पर भी बोले
पूर्व चयनकर्ता ने विराट कोहली ही नहीं बल्कि पूर्व कप्तान धोनी पर भी बड़ा बयान दिया है, उन्होने कहा कि उनके कार्यकाल में सबसे बड़ी चुनौती धोनी और युवराज सिंह जैसे बड़े खिलाड़ियों का विकल्प तलाशना था, इशारों ही इशारों में प्रसाद ने कहा कि अब तक धोनी और युवी का विकल्प नहीं मिल पाया है।

धोनी-युवी का विकल्प
एमएसके प्रसाद ने कहा कि धोनी और युवराज सिंह दोनों ही टीम इंडिया का अहम हिस्सा रहे हैं, दोनों दिग्गज खिलाड़ी हैं, उनका विकल्प तलाशना और उन्हें तैयार करना सबसे ज्यादा मुश्किल था, मुझे नहीं लगता कि कोई आसानी से उनकी जगह ले सकता है, हमारा काम था कि हम नये चेहरों को ढूंढें, उन्हें तैयार करें, हमने वैसा करने की कोशिश की, टीम इंडिया ने धोनी की जगह ऋषभ पंत को मौके दिये, लेकिन उन्होने अब तक विकेट के आगे और पीछे खुद को साबित नहीं किया है, टी-20 विश्वकप नजदीक है, पिछले दो सीरीज में केएल राहुल विकेटकीपर की भूमिका में दिखे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here