जिस गेंदबाज से कांप गया था पाकिस्तान, अब वो करेगा धोनी के भविष्य का फैसला!

2
1628

हरविंदर सिंह ने अपने वनडे करियर में 16 मैचों में 24 विकेट झटके, उनका इकॉनमी रेट 5.32 का रहा, पाक के खिलाफ 10 मुकाबलों में उन्होने 17 विकेट लिये।

टीम इंडिया के मुख्य चयनकर्ता को चुन लिया गया है, एमएसके प्रसाद का कार्यकाल पूरा होने के बाद अब ये जिम्मेदारी पूर्व स्पिन गेंदबाज और कोचिंग का अनुभव रखने वाले सुनील जोशी को दिया गया है, एमएसके प्रसाद के अलावा गगन खोड़ा का कार्यकाल भी पूरा हो रहा है, उनकी जगह पंजाब से ताल्लुक रखने वाले पूर्व तेज गेंदबाज हरविंदर सिंह को चयन समिति में जगह दी गई है।

कौन हैं हरविंदर सिंह
23 दिसंबर 1977 को अमृतसर में पैदा हुए हरविंदर सिंह ने टीम इंडिया के लिये 3 टेस्ट और 16 वनडे खेले हैं, खास बात ये है कि हरविंदर का करियर भले ही छोटा रहा हो, लेकिन इस 16 मैच के वनडे करियर में ही उन्होने पाकिस्तान के नाक में दम कर दिया था, कम ही लोग जानते हैं कि हरविंदर ने भारतीय टीम के लिये जो 16 वनडे खेले हैं, उनमें से 10 मैच उन्होने पाकिस्तान के खिलाफ खेले हैं।

डेब्यू मैच में तीन विकेट
हरविंदर सिंह ने 13 सितंबर 1997 को पाक के खिलाफ वनडे क्रिकेट में डेब्यू किया था, टोरंटो में खेले गये सहारा कप में उन्होने 8.2 ओवर में 44 रन देकर 3 विकेट हासिल किये थे, जिससे भारतीय टीम मुकाबला अपने नाम करने में सफल रही थी, इस मैच में उन्होने सलीम मलिक, शाहिद अफरीदी और अजहर महमूद का विकेट अपने नाम किया था।

पाक के खिलाफ 10 मैचों में 17 विकेट
हरविंदर सिंह ने अपने वनडे करियर में 16 मैचों में 24 विकेट झटके, उनका इकॉनमी रेट 5.32 का रहा, पाक के खिलाफ 10 मुकाबलों में उन्होने 17 विकेट लिये, इसके साथ ही उन्होने 3 टेस्ट मैच भी खेले, जिसमें 4 विकेट हासिल किये, हरविंदर ने 109 फर्स्ट क्लास मैचों में 292 और 93 लिस्ट ए मैचों में 127 विकेट झटके।

धोनी पर फैसला करने की चुनौती
सुनील जोशी की अगुवाई वाली नई चयन समिति के सामने अब टीम इंडिया के चयन की चुनौती है, हरविंदर सिंह समेत सभी चयनकर्ताओं को ये तय करना होगा, कि वो ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर में खेले जाने वाले टी-20 विश्वकप के लिये धोनी को टीम में रखेंगे या नहीं, टीम इंडिया को हाल ही में न्यूजीलैंड दौरे पर वनडे और टेस्ट सीरीज में शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा है, जिसके बाद धोनी को वापस लाने की मांग उठने लगी है।

2 COMMENTS

  1. Har baar jo India ke liye bas 8-10 match khela hai, usi ko team selector kyu banaate hai. Pehle MSK Prasad aur ab yeh. Dimaag se paidal ho kya?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here