दिनेश कार्तिक- पत्नी और दोस्त ने दिया ‘धोखा’, फिर पलटी किस्मत, 1 छक्के ने खत्म कराया था 12 साल का ‘वनवास’

0
173

करियर के शुरुआती दस टेस्ट मैचों में दिनेश कार्तिक सिर्फ एक अर्धशतक लगा सके, उनकी ये नाकामी महेन्द्र सिंह धोनी के लिये वरदान साबित हुआ।

टीम इंडिया से बाहर चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक आज अपना 35वां जन्मदिन मना रहे हैं, उन्होने साल 2004 में इंटरनेशनल क्रिकेट में कदम रखा था, उन्होने अपने पहले ही मैच में इंग्लैंड के तत्कालीन कप्तान माइकल वॉन का कैच टपका दिया था, हालांकि कुछ देर बाद ही उन्होने शानदार स्टंप कर अपनी गलती सुधार ली और वॉन को पवेलियन भेज दिया था।

धोनी की वजह से पिछड़ गये
करियर के शुरुआती दस टेस्ट मैचों में दिनेश कार्तिक सिर्फ एक अर्धशतक लगा सके, उनकी ये नाकामी महेन्द्र सिंह धोनी के लिये वरदान साबित हुआ, धोनी को सीमित ओवरों में मौका मिला, जिसे उन्होने भूनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी, इसके बाद दूसरे विकेटकीपरों के लिये रास्ता बंद होता चला गया, कार्तिक हमेशा ही टीम में जगह बनाने के लिये संघर्ष करते दिखे।

मेहनत करना जारी रखा
धोनी तीनों प्रारुपों में अच्छा खेल रहे थे, इस वजह से उस दौर के सभी विकेटकीपरों का करियर खत्म हो गया, हालांकि कार्तिक ने हार नहीं मानी, वो लगातार मेहनत करते रहे, साल 2018 में उन्होने निदाहास ट्रॉफी में बांग्लादेश के खिलाफ फाइनल मुकाबले में आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर टीम को जीत दिलाई, इससे पहले उन्होने आखिरी टी-20 2007 में खेला था, इसी एक छक्के ने उन्हें 2019 आईसीसी विश्वकप टीम में जगह दिला दी।

पत्नी और दोस्त ने दिया धोखा
करियर में उतार चढाव के बीच उनकी निजी जिंदगी में भी तूफान आया, दिनेश ने अपने बचपन की दोस्त निकिता से शादी की थी, हालांकि 2012 में निकिता ने उन्हें धोखा देते हुए मुरली विजय के साथ घर बसाने का फैसला ले लिया, जब कार्तिक को निकिता और विजय के रिश्ते की जानकारी हुई, तो उन्होने तुरंत अपनी पत्नी को तलाक दे दिया, तब निकिता प्रेग्नेंट थी, इसके बाद दोनों ने शादी कर ली।

दोस्ती में दरार
दिनेश और मुरली विजय घरेलू क्रिकेट में तमिलनाडु के लिये खेलते थे, दोनों काफी अच्छे दोस्त थे, हालांकि इस धोखे के बाद दोनों की दोस्ती में दरार आ गई, दोनों अब एक-दूसरे से बात तक नहीं करते हैं, फिर 2013 में दिनेश कार्तिक की मुलाकात स्क्वैश प्लेयर दीपिका पल्लीकल से हुई, दोनों एक-दूसरे को पसंद करने लगे, 2 साल डेट करने के बाद 2015 में दोनों ने शादी कर ली, कहा जाता है कि दीपिका के दिनेश कार्तिक के जीवन में आने से उनकी किस्मत पलटने लगी, उनका बल्ला रन उगलने लगा, वो आईपीएल में केकेआर के कप्तान बन गये, इसके साथ ही अपनी घरेलू टीम के लिये भी फिनिशर की भूमिका निभाने लगे।