shami bumrah

जसप्रीत बुमराह तथा मोहम्मद शमी ने 9वें विकेट के लिये दोनों ने 89 रनों की नाबाद साझेदारी की, ये इंग्लैंड में 9वें विकेट के लिये किसी भी भारतीय जोड़ी की सबसे बड़ी साझेदारी है।

जसप्रीत बुमराह तथा मोहम्मद शमी ने दूसरे टेस्ट में मेजबान इंग्लैंड को बैकफुट पर धकेल दिया है, मैच के 5वें तथा अंतिम दिन सोमवार को एक समय टीम इंडिया 209 रन पर 8 विकेट गंवाकर संघर्ष कर रही थी, लेकिन फिर दोनों ने 9वें विकेट के लिये 77 रनों की नाबाद साझेदारी कर टीम की वापसी करवाई, लंच तक टीम इंडिया ने 8 विकेट पर 286 रन बन लिये थे, इस तरह कुल बढत 259 रनों की हो गई।

9वें विकेट के लिये 89 रन
जसप्रीत बुमराह तथा मोहम्मद शमी ने 9वें विकेट के लिये दोनों ने 89 रनों की नाबाद साझेदारी की, ये इंग्लैंड में 9वें विकेट के लिये किसी भी भारतीय जोड़ी की सबसे बड़ी साझेदारी है, इससे पहले कपिल देव और मदन लाल ने 1982 में 66 रन जोड़े थे, हालांकि बुमराह के लिये बल्लेबाज आसान नहीं रही, उनके सिर पर बाउंसर गेंद लगी, फिर पारी के 92वें ओवर में इंग्लिश तेज गेंदबाज मार्क वुड ने बुमराह को कुछ कहा, बुमराह ने जवाब भी दिया, इसके बाद जोस बटलर ने बुमराह को कुछ कहा, जिससे बुमराह नाराज हो गये, इंग्लैंड के कप्तान जो रुट को भी बुमराह ने अपने ही अंदाज में जवाब दिया, लेकिन उन्होने अपनी बल्लेबाजी से अंग्रेजों को खूब परेशान किया।

करियर का दूसरा अर्धशतक
दूसरी पारी में तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने नाबाद 56 रन बनाये, ये उनके टेस्ट करियर का दूसरा अर्धशतक और बेस्ट स्कोर भी है, इससे पहले नाबाद 51 रन उनका बेस्ट स्कोर था, शमी का ये 53वां टेस्ट है, उन्होने दोनों अर्धशतक इंग्लैंड के ही खिलाफ लगाये हैं, इससे पहले 2014 में नॉटिंघम में नाबाद 51 रनों की पारी खेली थी, तब ये मुकाबला ड्रा रहा था।

बुमराह ने करियर के आधे से ज्यादा रन मौजूदा सीरीज में बनाये
मौजूदा सीरीज से पहले बुमराह के टेस्ट करियर की बात करें, तो उन्होने 30 पारियों में 2 की औसत से 43 रन बनाये थे, लेकिन मौजूदा सीरीज में उनका बल्ला खूब रन उगल रहा है, पहले टेस्ट की पहली पारी में उन्होने 28 रन बनाये थे, तब ये उनका टेस्ट का बेस्ट स्कोर था, हालांकि दूसरे टेस्ट की पहली पारी में खाता भी नहीं खोल सके, लेकिन दूसरी पारी में नाबाद 34 रन बनाये, यानी वो इस सीरीज में 62 रन बना चुके हैं, जो करियर का आधे से अधिक रन है।

Read Also – आप विराट बिग्रेड में उलझे रहे, इधर टोक्यो में टीम इंडिया ने रच दिया इतिहास