2020 में कैसी रहेगी शनि की चाल, इन राशियों पर ढैय्या और साढेसाती का प्रकोप

0
86
Loading...

शनि पूरे 12 राशियों के चक्र को पूरा करने के लिये तीस सालों का समय लेता है, इस समय शनि धनु राशि में विचरण कर रहा है।

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार करीब हर ढाई साल के बाद शनि एक राशि को छोड़कर दूसरी राशि में जाते हैं, शनि के राशि परिवर्तन से सभी जातकों के जीवन में गहरा असर पड़ता है, शास्त्री के मुताबिक जिसकी कुंडली में शनि अशुभ स्थिति में होता है, उसको आर्थिक परेशानियों और अलग-अलग तरह की बाधाओं और विपदाओं का सामना करना पड़ता है, कुंडली में शनि के शुभ होने से व्यक्ति को कई तरह की खुशियां एक साथ मिलती है।

24 जनवरी को राशि परिवर्तन
शनि पूरे 12 राशियों के चक्र को पूरा करने के लिये तीस सालों का समय लेता है, इस समय शनि धनु राशि में विचरण कर रहा है, नये साल 2020 की 24 जनवरी को शनि का राशि परिवर्तन होने जा रहा है, शनि 24 जनवरी को धनु राशि को छोड़कर मकर राशि में प्रवेश कर जाएगा, शनि के मकर राशि में जाने से कई राशियों पर इसका प्रभाव पड़ेगा।

Loading...

2020 में किस पर साढेसाती और ढैय्या
साल 2020 में शनि के मकर राशि में जाने से साढेसाती और ढैय्या का प्रभाव राशि के मुताबिक अलग-अलग रहेगा, 24 जनवरी 2020 में शनि के मकर राशि में जाने से मिथुन और तुला राशि के जातकों पर शनि की ढैय्या के प्रभाव में आ जाएंगे, वहीं शनि के मकर राशि में जाने पर वृषभ और कन्या राशि के जातक इसके अशुभ प्रभाव से मुक्त हो जाएंगे। शनि के मकर राशि में जाने से कुंभ राशि वालों पर शनि की साढेसाती शुरु हो जाएगी और वृश्चिक राशि वाले साढेसाती से मुक्त हो जाएंगे।

साल 2019 में किन पर साढेसाती और ढैय्या
इस समय शनि धनु राशि में है, इस वजह से वृश्चिक, धनु और मकर राशि पर शनि की साढेसाती है, जबकि वृष और कन्या राशि पर शनि की ढैय्या का प्रभाव है। लेकिन अब अगले महीने 24 जनवरी से ये बदल जाएगा, क्योंकि शनि अपना राशि परिवर्तन करने वाले हैं।

दोष कम करने के उपाय
शनि दोष कम करने के लिये शनिदेव को प्रसन्न करें, इसके लिये शनिवार के दिन उन्हें तेल चढाना चाहिये, पीपल के पेड़ की विशेष पूजा करनी चाहिये, शनिवार को काले तिल का दान करें, शमी के पेड़ की पूजा करें साथ ही चमड़े के जूते-चप्पल का दान करना भी शुभ माना गया है।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here