इस दिन से शुरू होगा भगवान शिव का सबसे प्रिय महीना, सावन पर बनेगा अद्भुत संयोग

0
61
sawan mahina 2020 date

हिंदूओं में सावन (Sawan) के महीने का बहुत ही खास महत्व होता है. इस पूरे माह भगवान शिव की अराधना की जाती है. शिव मंदिरों में बम-बम भोले की गूंज होती है हर तरफ बस भोले के ही भक्त नजर आते हैं. ऐसा कहा जाता है कि, अगर सावन के पूरे महीने भगवान शिव की सच्चे मन से पूजा की जाए तो हर मनोकामना पूरी होती है. तो चलिए जानते हैं कि सावन का पावन माह कब से शुरू हो रहा है और कौन से विशेष संयोग बन रहे हैं.

किस दिन से शुरू होगा सावन महीना
साल 2020 का ये पावन महीना 6 जुलाई से शुरू होगा और इसका समापन 3 अगस्त को होगा. ऐसी मान्यता है कि, मां पार्वती ने भगवान शिव को पति के रूप में पाने के लिए पूरे सावन के महीने कठोर तप किया थाsawan 2020 उसके बाद ही उन्हें शिव की प्राप्ति हुई थी. इसलिए ये महीना कुंवारी कन्याओं के लिए बहुत महत्व रखता है.

सावन में विशेष संयोग
6 जुलाई से सावन के पावन महीने की शुरुआत हो जाएगी और इस दिन सोमवार ही पड़ेगा और जब सावन का महीना समाप्त होगा यानि 3 अगस्त को भी सोमवार की पड़ेगा.sawan month 2020 इस वजह से सावन महीने को धार्मिक नजरिए से एक अद्भुत संयोग माना जा रहा है. आमतौर पर ऐसा बहुत कम होता है जब सावन की शुरुआत और समापन सोमवार से होती है.

कुंवारी कन्याओं के लिए बहुत खास है सावन महीना
वैसे तो सावन के महीने का अपने आप में एक खास महत्व होता है. पर ये विशेष रूप से कुंवारी कन्याओं के लिए लाभकारी होता है. sawan mahina 6 julyऐसा कहा जाता है कि, जिन कन्याओं का विवाह नहीं हो रहा होता है अगर वो पूरे मन से सावन में भगवान शिव की आराधना करें तो उन्हें सुयोग्य वर की प्राप्ति होती है.

वैवाहिक जीवन की परेशानियां होती हैं खत्म
कुंवारी कन्याओं को भगवान शिव का आशीर्वाद मिलता है साथ ही जिन लोगों के वैवाहिक जीवन में परेशानियां होती हैं वह भी दूर हो जाती हैं.shiv sawan month 2020 ऐसा कहा जाता है कि, जिन लोगों के वैवाहिक जीवन में दिक्कतें होती हैं उन्हें भगवान शिव की पूरी श्रद्धा के साथ पूजा करनी चाहिए.

ये भी पढ़ेंः- लाटू देवता नहीं देते भक्तों को दर्शन, साल में 1 दिन खुलता है मंदिर, पुजारियों को भी लगता है डर