इन 5 राशियों पर मां लक्ष्मी सदैव रहती हैं मेहरबान, कम उम्र में मिल जाती है सफलता

0
112
10-may-2020-rashifal-horoscope

हर व्यक्ति की चाह होती है वह एक सुखी और खुशहाल जीवन बिताए. कई लोग खुशी जीवन की चाह में दिन-रात मेहनत भी करते हैं लेकिन फिर भी खुशियां और तरक्की उनसे कोसों दूर रहती है. या कहें कि, भाग्य उनका साथ नहीं देता. जबकि कई लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें बहुत कम उम्र में सबकुछ मिल जाता है और वह धनवान बन जाते हैं. ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, 12 राशियों में से पांच राशियां ऐसी होती हैं जिन पर मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बरसती है और ऐसे लोगों को कम उम्र में ही सबकुछ हासिल हो जाता है. तो चलिए जानते हैं कौनसी हैं वो 5 राशियां जो सबसे ज्यादा भाग्यशाली होती हैं.

पांच भाग्यशाली राशियां

1. मेष राशिः
इस राशि का स्वामी मंगल होता है और इनके भीतर पैसा कमाने का जज्बा होता है. मेष राशि के लोग अपनी मेहनत के दम पर न सिर्फ समाज में मान-सम्मान पाते हैं बल्कि सफलता भी हासिल करते हैं. एक बार जो ठान लेते हैं उसे पाकर ही चैन लेते हैं.
2. वृषभ राशिः
इस राशि का स्वामी ग्रह शुक्र होता है. कहा जाता है कि, वृषभ जातकों को जीवन में मुश्किलों का सामना बहुत कम करना पड़ता है और वैसे भी स्वामी शुक्र वैभव औप संपन्नता का कारक माना जाता है. ज्योतिषियों की मानें तो, इस राशि के लोगों को किस्मत का साथ हमेशा मिलता है और इनके पास पैसा भी भरपूर होता है.
3. कर्क राशिः
इस रासइ का स्वामी ग्रह चंद्रमा होता है. कर्क राशि की सबसे बड़ी खासियत ये होती है कि, इनके पास लीडरशिप की क्षमता कमाल की होती है और इसी कारण ये हर काम में आगे रहते हैं और भाग्य में इनके साथ चलता है. ये लोग मेहनत पर विश्वास रखते हैं.lakshmi

4. सिंह राशिः
इस राशि का स्वामी सूर्य होता है. कहा जाता है कि, इन लोगों को कम उम्र में ही सबकुछ हासिल हो जाता है. इनके पास पैसों की कमी नहीं होती और इस राशि के लोग कर्म पर विश्वास रखते हैं. जातकों की सबसे बड़ी खासियत होती है कि, इन्हीं जिस भी चीज की चाह होती है उसे ये मेहनत के दम पर जरूर पा लेते हैं. भाग्य भी इनके साथ चलता है.
5. धनु राशिः
धनु राशि का स्वामी गुरु होता है और गुरु को मान सम्मान के साथ वैभव का कारक माना जाता है. इस राशि के खूब भाग्यशाली होते हैं और इसी कारण इन्हें कम उम्र में सफलता हासिल हो जाती है.

नोटः आलेख में दी गई जानकारियों की हम पूरी तरह पुष्टि नहीं करते. इसलिए अपनाने से पहले संबंधित क्षेत्र के विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें.