आज है फाल्गुन अमावस्या, भूलकर भी ना करें ये काम, नहीं तो पड़ेगा भारी

0
189

मान्यताओं के अनुसार फाल्गुन अमावस्या के दिन किसी भी तरह के नमक का भी सेवन नहीं करना चाहिये।

आज फाल्गुन अमावस्या है, फाल्गुन महीने में पड़ने वाली अमावस्या को फाल्गुन अमावस्या कहा जाता है, ये अमावस्या पितरों का तर्पण करने के लिये भी खास मानी जाती है, ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक फाल्गुन अमावस्या की तिथी 22 फरवरी शाम 7.04 से लेकर 23 फरवरी रात 9.03 बजे तक है, इस समय कुछ सावधानी बरतें, नहीं तो नुकसान हो सकता है।

नकारात्मक शक्तियां
धार्मिक शास्त्रों, कथाओं और पुराणों में Falgun Amavasya को बेहद खास तिथि माना गया है, मान्यताओं के मुताबिक अमावस्या के दिन नकारात्मक शक्तियां ज्यादा सक्रिय रहती हैं, मन में भी बुरे ख्याल आते हैं, ऐसे में फाल्गुन अमावस्या के दिन कुछ कामों की करने की मनाही होती है, आइये आपको बताते हैं कि इस दिन कौन से काम नहीं करने चाहिये।

Falgun Amavasya के दिन देर तक नहीं सोना चाहिये, अमावस्या के दिन प्रातः काल सूर्योदय से पहले ही बिस्तर छोड़ देना चाहिये।
फाल्गुन अमावस्या के दिन लहसुन प्यार, मांस-मदिरा का सेवन नहीं करना चाहिये, संभव हो तो उपवास रखें, या फिर सात्विक भोजन ग्रहन करें।
मान्यताओं के अनुसार फाल्गुन अमावस्या के दिन किसी भी तरह के नमक का भी सेवन नहीं करना चाहिये।

अमावस्या के दिन घर के किसी भी कोने में अंधेरा ना रखें, शाम होते ही घर के सभी कमरों में रोशनी करनी चाहिये, ताकि नकारात्मक शक्तियां घर में प्रवेश ना कर सकें।
फाल्गुन महीने की अमावस्या के पितरों के तर्पण के लिये जानी जाती हैं, इसलिये इन दिन घर के दरवाजे से किसी भी भिखारी को खाली हाथ नहीं लौटाना चाहिये।
इस दिन काले रंग के कपड़े पहनने की मनाही होती है, इसलिये इस दिन प्रातः काल स्नान के बाद हल्के रंग के कपड़े ही पहनें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here