Ganguly

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को 2 जनवरी को हार्ट अटैक आया था, घर के जिम में वर्कआउट करने के दौरान दादा को सीने में दर्द हुआ, इसके बाद परिजनों ने उन्हें तुरंत कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में भर्ती कराया।

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के बीच बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के राजनीति में उतरने की खूब चर्चा हो रही है, इसे लेकर सोमवार को गांगुली ने आजतक न्यूज चैनल से खास बातचीत की, सियासी सफर शुरु करने के सवाल पर पूर्व कप्तान ने कहा कि जीवन ने मुझे कई अवसर दिये हैं, देखते हैं आगे क्या होता है, अब मैं स्वस्थ्य हूं और अपना काम शुरु करने जा रहा हूं, बातचीत के दौरान गांगुली ने क्रिकेट से जुड़े कई सवाल पर बेबाकी से जवाब देते दिखे।

गांगुली के बीजेपी में जाने की चर्चा
आपको बता दें कि रविवार को कोलकाता के बिग्रेड मैदान में पीएम मोदी ने एक बड़ी चुनावी रैली को संबोधित किया, इस रैली में टीम इंडिया के पूर्व कप्तान तथा बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली के भी शामिल होने की बात कही जा रही थी, लेकिन इस रैली में सौरव गांगुली शामिल नहीं हुए थे।

2 जनवरी को हार्ट अटैक
पूर्व कप्तान को 2 जनवरी को हार्ट अटैक आया था, घर के जिम में वर्कआउट करने के दौरान दादा को सीने में दर्द हुआ, इसके बाद परिजनों ने उन्हें तुरंत कोलकाता के वुडलैंड्स अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उनकी एंजियोप्लास्टी हुई, 7 जनवरी को सौरव गांगुली को वुडलैंड्स अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी, लेकिन 27 जनवरी को सौरव गांगुली की तबीयत एक बार फिर बिगड़ गई, उन्हें कोलकाता के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था, हालांकि अब वो पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं, और काम पर लौटने के लिये तैयार हैं।

क्या बोले थे दिलीप घोष
कुछ दिन पहले ही बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने सौरव गांगुली के पार्टी में आने के सवाल पर कहा था कि सौरव गांगुली को लेकर जो खबरें बनाई जा रही है, उनमें कोई दम नहीं है, ganguly गांगुली ने अभी तक कुछ नहीं कहा है, और बीजेपी ने भी कुछ नहीं कहा है, अगर वो आते हैं, तो अच्छा है, पार्टी में जो भी शामिल होगा, हम उनका स्वागत करेंगे, लेकिन अभी तक सौरव गांगुली से कोई बातचीत नहीं है।

Read Also – बंगाल में चुनाव से पहले ही ओवैसी के साथ हो गया खेल, पलटी मार गये सिद्दीकी!