Sunday, April 18, 2021

इंदिरा ने खोज ली थी बहू, लेकिन राजीव को हो गया विदेशी लड़की से प्यार, सोनिया गांधी की लव स्टोरी!

इंदिरा गांधी ने अपने बेटे की भावनाओं का सम्मान किया, तथा सोनिया से मिलने की इच्छा जाहिर की। राजीव गांधी ने भी दोनों की मुलाकात तय की।

कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी आज 73 साल की हो गई है, साल 1946 में इटली में पैदा हुई सोनिया गांधी जीवनी किसी परिकथा से कम नहीं है, उन्होने शायद ख्वाब में भी नहीं सोचा होगा, कि उनका प्यार उन्हें भारत देश के सबसे बड़े राजनीतिक घराने की बहू बना देगा, पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से उनकी पहली मुलाकात ग्रीक रेस्टोरेंट वार्सिटी में हुई थे, खाने की मेज पर इत्फाक से हुई उस मुलाकात ने दोनों के जीवन की ऐसी पटकथा लिखी, जिसके बारे में कोई सोच भी नहीं सकता था। हालांकि राजीव-सोनिया के प्रेम से बेखबर इंदिरा गांधी ने भारत में ही बहू ढूंढ ली थी, वो फिल्ममेकर राज कपूर की बेटी रितु को बहू बनाना चाहती थी।

किताब में खुलासा
चर्चित पत्रकार रशीद किदवई की किताब में इस बात का जिक्र है कि नेहरु जी और पृथ्वी राज कपूर के बीच गहरी दोस्ती थी, इंदिरा इस दोस्ती को रिश्तेदारी में बदलना चाहती थी, रितु उन्हें बेहद पसंद थी, वो अपने बड़े बेटे राजीव से उनकी शादी कराना चाहती थी, दोनों परिवार इस रिश्ते को लेकर काफी खुश था, हालांकि राजीव को इस बारे में कुछ भी पता नहीं था।

बेटे की भावनाओं का सम्मान
हालांकि इंदिरा गांधी बेटे से इस बारे में बात करती या कुछ बताती उससे पहले ही राजीव ने अपने दिल की बात मां को बता दी, पहले तो इंदिरा भी इस बेमेल रिश्ते की बात सुनकर हैरान रह गई थी, लेकिन फिर उन्होने अपने बेटे की भावनाओं का सम्मान किया, तथा सोनिया से मिलने की इच्छा जाहिर की। राजीव गांधी ने भी दोनों की मुलाकात तय की।

सोनिया नर्वस थी
बताया जाता है कि इंदिरा गांधी से पहली मुलाकात में सोनिया बहुत नर्वस थी, लेकिन इंदिरा गांधी ने उन्हें देखकर बड़े ही प्यार से कहा था कि डरो नहीं मैंने भी प्यार किया है, इसलिये मैं इस समय तुम्हारे दिमाग में क्या चल रहा है, उसके बारे में समझ सकती हूं। फिर इंदिरा गांधी ने दोनों ने प्यार पर मुहर लगा दी, जिसके बाद साल 1968 में दोनों सात जन्मों के बंधन में बंध गये।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

Latest Articles