नागरिकता बिल पर यू-टर्न के मूड में शिवसेना, संजय राउत ने कही ये बात, वीडियो

0
86
Loading...

वीडियो देखने के लिये नीचे जाएं
संसद जाने से पहले संजय राउत से पत्रकारों ने पूछा कि शिवसेना का क्या रुख होगा, तो इस पर उन्होने कहा कि अगर हमें कोई राष्ट्रभक्ति का मार्गदर्शन करने जाएगा, तो हम भी उसे बताएंगे कि राष्ट्रभक्ति क्या होती है।

नागरिकता संशोधन बिल लोकसभा में पास हो चुका है, और राज्यसभा में चर्चा जारी है, उससे पहले शिवसेना ने यू-टर्न मारा है, शिवसेना राज्यसभा सांसद और उद्धव ठाकरे के करीबी कहे जाने वाले संजय राउत ने बड़ा बयान दिया है, उन्होने कहा कि इस बिल पर लोकसभा और राज्यसभा में अलग-अलग हालात हैं, हमें इस बिल पर अपनी शंकाओं को दूर करना है, अगर हमें संतोषजनक जवाब नहीं मिला, तो लोकसभा में हमारा जो रुख था, राज्यसभा में उससे अलग हो सकता है।

गोल-मोल जवाब
संसद जाने से पहले संजय राउत से पत्रकारों ने पूछा कि शिवसेना का क्या रुख होगा, तो इस पर उन्होने कहा कि अगर हमें कोई राष्ट्रभक्ति का मार्गदर्शन करने जाएगा, तो हम भी उसे बताएंगे कि राष्ट्रभक्ति क्या होती है, इसके बाद राउत आगे बढ गये, फिर पत्रकारों ने पूछा कि क्या रुख रहेगा, तो उन्होने कहा कि जो देश की जनता के हित में होगा, जो मानवता के हित में होगा, वहीं हमारा रुख रहेगा और चलते बने।

Loading...

कांग्रेस की धमकी का असर
कहा जा रहा है कि नागरिकता बिल के समर्थन में लोकसभा में शिवसेना के वोट करने से कांग्रेस आलाकमान बेहद नाराज हैं, सूत्रों के मुताबिक ये बात शिवसेना चीफ तक भी पहुंचा दी गई है, कांग्रेस की ओर से चेतावनी देते हुए कहा गया है कि अगर आप इसी तरह गठबंधन धर्म के खिलाफ कदम उठाते रहे, तो हमारे लिये 2-4 मंत्रालय कोई मायने नहीं रखता। जिसके बाद शिवसेना के सुर बदल गये हैं।

अब रख दी नई शर्त
आपको बता दें कि शिवसेना ने हिंदुत्व के एजेंडे के तहत लोकसभा में नागरिकता बिल के समर्थन में वोट किया था, लेकिन अब उन्होने नई शर्त रख दी है, महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि हम नागरिकता बिल को आगे ले जाने में तब तक सरकार का समर्थन नहीं करेंगे, जब तक हमारे सवालों के जवाब नहीं मिल जाते । शिवसेना का कहना है कि दूसरे देशों से आये लोगों को अगर नागरिकता दी जाती है, तो 25 साल उन्हें वोट देने का अधिकार नहीं दिया जाए।

सिर्फ बीजेपी को ही देश की परवाह
उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि जो बीजेपी से असहमत होता है, वो देशद्रोही होता है, ये उनका (बीजेपी) भ्रम है, ये भी भ्रम है कि सिर्फ बीजेपी को ही देश की परवाह है, हमने राज्यसभा में नागरिकता संशोधन में कुछ बदलाव के सुझाव दिये हैं, हम चाहते हैं कि राज्यसभा में इसे गंभीरता से लिया जाए, सरकार को ये स्पष्ट करना चाहिये कि ये शरणार्थी कहां रहेंगे किस राज्य में रहेंगे।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here