Prashant-Kishor-Pawar (1)

मीडिया से बात करते हुए शरद पवार ने कहा कि ये बिल्कुल गलत है कि मैं राष्ट्रपति चुनाव का उम्मीदवार बनूंगा, मुझे पता है कि जिस पार्टी के पास 300 से ज्यादा सांसद हैं, उसे देखते हुए क्या नतीजा होगा।

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर पिछले कुछ समय में एनसीपी प्रमुख शरद पवार से दो बार मिल चुके हैं, कहा जा रहा है कि पीके राष्ट्रपति पद के लिये शरद पवार को उम्मीदवार बनाना चाहते हैं, इस काम के लिये वो पूरे विपक्ष को गोलबंद करने में लगे हुए हैं, इस बीच एनसीपी मुखिया ने राजनीतिक गलियारों में तैर रही खबरों पर चुप्पी तोड़ी है, उनका साफ कहना है कि वो अगले साल होने जा रहे राष्ट्रपति चुनाव के उम्मीदवार बनने नहीं जा रहे हैं।

क्या कहा
बुधवार को मीडिया से बात करते हुए शरद पवार ने कहा कि ये बिल्कुल गलत है कि मैं राष्ट्रपति चुनाव का उम्मीदवार बनूंगा, मुझे पता है कि जिस पार्टी के पास 300 से ज्यादा सांसद हैं, उसे देखते हुए क्या नतीजा होगा, पवार ने पीके से मुलाकात पर भी अपनी स्थिति स्पष्ट कर दी, उन्होने कहा कि पीके मुझसे दो बार मिले, लेकिन हमने सिर्फ उनकी एक कंपनी के बारे में बात की, 2024 चुनाव या राष्ट्रपति चुनाव के लिये नेतृत्व के संबंध में कोई चर्चा नहीं हुई, पीके ने मुझसे बताया कि उन्होने चुनावी रणनीति बनाने का काम अब छोड़ दिया है।

2024 चुनावों में नही करने जा रहा नेतृत्व
शरद पवार के अलावा पीके ने राहुल गांधी, प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी से भी मुलाकात की है, चर्चा है कि आगामी लोकसभा चुनाव में बीजेपी को टक्कर देने के लिये विपक्ष की गोलबंदी करने में जुटे हैं, इस बारे में शरद पवार ने कहा अभी तक कुछ भी तय नहीं किया गया है, चाहे 2024 का आम चुनाव हो, या महाराष्ट्र के चुनाव, चुनाव दूर है, लेकिन राजनीतिक हालात बदलते रहते हैं, मैं 2024 के चुनावों में कोई नेतृत्व नहीं संभालने जा रहा हूं।

मोदी सरकार बनवाने में बड़ी भूमिका
पीके के नाम से मशहूर प्रशांत किशोर ने चुनावी रणनीति का काम मोदी के साथ ही शुरु किया था, सबसे पहले 2013 गुजरात विधानसभा में उन्होने काम किया, फिर 2014 में बीजेपी की केन्द्र में सरकार बनवाने में मदद की, इसके बाद कई राज्यों में चुनावी रणनीतिकार की भूमिका निभाई, हालांकि 2014 के बाद बीजेपी से उनका नाता टूट गया।

Read Also – शरद पवार को राष्ट्रपति बनाने के लिये गोलबंदी में लगे हैं प्रशांत किशोर, राहुल-प्रियंका से मीटिंग की Inside Story