Modi Sanjay

प्रशांत किशोर को लेकर राउत ने कहा कि पीके ने बंगाल में अच्छा काम किया है, ऐसा टीएमसी का कहना है, टीएमसी और पीके का एक समझौता भी हुआ था।

एक तरफ जहां प्रशांत किशोर विपक्ष को एकजुट करने में लगे हुए हैं, तो वहीं शिवसेना सांसद संजय राउत ने बड़ा बयान दिया है, उन्होने कहा कि पीएम मोदी से मुकाबला करने के लिये फिलहाल विपक्ष के पास कोई चेहरा नहीं है, जब तक विपक्ष के पास कोई चेहरा नहीं आता है, तब तक कोई चांस नहीं है। हालांकि उन्होने ये भी कहा कि मोदी के मुकाबले एनसीपी प्रमुख शरद पवार सबसे सही उम्मीदवार हैं, 2024 में बिना किसी चेहरे के मोदी को हराना मुश्किल होगा, शरद पवार इसके लिये सही विकल्प हैं।

कांग्रेस में संकट
शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि राहुल गांधी बड़े कांग्रेस नेता हैं, लेकिन उनसे भी बड़े नेता मौजूद हैं, उन्होने कहा कि कांग्रेस में लीडरशिप को लेकर संकट है, तभी तो अभी तक पार्टी प्रेसिडेंट नहीं चुन सकी है।

पीके पर क्या कहा
प्रशांत किशोर को लेकर राउत ने कहा कि पीके ने बंगाल में अच्छा काम किया है, ऐसा टीएमसी का कहना है, टीएमसी और पीके का एक समझौता भी हुआ था, महाराष्ट्र में पीके ने हमारे साथ भी कुछ काम किया था, मुझे नहीं मालूम कि वो क्या करना चाहते हैं, देश के विपक्ष को एकजुट करने में वो बड़ा योगदान दे सकते हैं, अगर कोई गैर राजनीतिक व्यक्ति ऐसा काम करे, उसको सब लोग मान्यता देते हैं, मोदी जी का चेहरा बहुत अहम है, हालांकि कोरोना दूसरी लहर के बाद उनकी लोकप्रियता में कमी आई है। इसके बावजूद वो देश के सबसे बड़े नेता हैं।

अहम समय पर बयान
शिवसेना सांसद संजय राउत का बयान तब आया है, जब बीते दिन ही चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा से मुलाकात की है, अटकलें है कि पीके समूचे विपक्ष को एकजुट करने में लगे हुए हैं, कुछ समय पहले ही पीके और शरद पवार की तीन बार मुलाकात हुई है, माना जा रहा है कि लोकसभा से पहले राष्ट्रपति चुनाव में पीके विपक्ष को एकजुट कर बीजेपी को अपनी शक्ति दिखाना चाहते हैं।

Read Also – बेटे वरुण को नहीं मिली मोदी कैबिनेट में जगह, तो मेनका गांधी ने तोड़ी चुप्पी, कही बड़ी बात