सिंधिया के करीबी दोस्तों में गिने जाने वाले राजस्थान के डिप्टी सीएम ने ट्विटर पर लिखा, ज्योतिरादित्य को कांग्रेस से अलग होते हुए देखना दुखद है।

कद्दावर राजनेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया है, सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने पर राजस्थान के उपमुख्यमंत्री ने प्रतिक्रिया दी है, उन्होने कहा कि ज्योतिरादित्य को पार्टी से अलग होते देखना दुखद है, चीजें पार्टी के अंदर ही सुलझायी जा सकती थी, मालूम हो कि सिंधिया ने मंगलवार सुबह पार्टी की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया, इसके बाद अगले दिन बुधवार को जेपी नड्डा की मौजूदगी में बीजेपी की सदस्यता ली।

सचिन ने क्या कहा
सिंधिया के करीबी दोस्तों में गिने जाने वाले राजस्थान के डिप्टी सीएम ने ट्विटर पर लिखा, ज्योतिरादित्य को कांग्रेस से अलग होते हुए देखना दुखद है, काश चीजों को पार्टी के अंदर ही साथ मिलकर सुलझा लिया गया होता, आपको बता दें कि सिंधिया पार्टी में लगातार हो रही अनदेखी से नाराज थे, इसी वजह से उन्होने कांग्रेस छोड़ने का फैसला लिया।

22 विधायकों ने भी दिया इस्तीफा
ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ एमपी कांग्रेस के 22 विधायकों ने भी अपने पदों से इस्तीफा दे दिया है, बताया जा रहा है कि ये सभी विधायक सिंधिया के बाद बीजेपी में जाएंगे, एक साथ इतने विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार संकट में आ गई है, हालांकि सीएम कमलनाथ ने कहा कि वो विधानसभा फ्लोर पर बहुमत साबित करेंगे, उनके पास बहुमत है।

विधायकों को एमपी से हटाया गया
मंगलवार को सीएम कमलनाथ के बयान के बाद बीजेपी और कांग्रेस ने अपने-अपने विधायकों को एमपी से हटा दिया है,  बीजेपी ने गुरुग्राम के एक लग्जरी होटल में अपने विधायकों को रखा है, तो कांग्रेस के विधायकों को जयपुर के एक रिजॉर्ट में भेज दिया गया है, वहीं सिंधिया के पक्ष में इस्तीफा देने वाले विधायकों को बंगलुरु भेजा गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here