sushil modi rohini

बीजेपी सांसद सुशील मोदी के ट्वीट के बाद रोहिणी आचार्य ने तल्ख तेवर दिखाये थे, सुमो पर लगातार हमला बोलते हुए रोहिणी ने एक के बाद एक कई ट्वीट लिखी थी।

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव की दूसरी बेटी रोहिणी आचार्य लगातार ट्विटर के जरिये सुशील कुमार मोदी पर हमले कर रहे थी, वो उन्हें पीटने की बात कह रही थी, अब इन बातों के बाद उनका ट्विटर हैंडल ब्लॉक कर दिया गया है, दरअसल बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और बीजेपी सांसद सुशील कुमार मोदी ने रोहिणी के खिलाफ ट्विटर से शिकायत की थी।

लगातार हमले
सुशील कुमार मोदी ने इस बारे में एक और ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी साझा की, सुमो ने ट्वीट में लालू प्रसाद यादव की दो बेटियों के डॉक्टर होने तथा तेजस्वी यादव को सरकारी आवास के बजाय पटना में अर्जित मकानों में से किसी एक में कोविड अस्पताल बनाने की नसीहत दी थी, जिसके बाद से रोहिणी लगातार आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल कर रही थी।

तल्ख तेवर
बीजेपी सांसद के ट्वीट के बाद रोहिणी आचार्य ने तल्ख तेवर दिखाये थे, सुमो पर लगातार हमला बोलते हुए रोहिणी ने एक के बाद एक कई ट्वीट लिखी थी, एक ट्वीट में उन्होने लिखा था, ये तो आपकी किस्मत अच्छी थी कि हम वहीं नहीं थे, रोहिणी ने ट्वीट में सृजन घोटाले का भी जिक्र किया था, सुमो ने इस मुद्दों को लेकर ट्विटर से शिकायत की थी, सुमो ने ट्वीट कर पूछा मंत्री बनाये जाने के एवज में कांति सिंह ने जो दो मंजिला भवन गिफ्ट किया था, उसमें या राबड़ी देवी के पास जो फ्लैट बचे हैं, उसमें आप अस्पताल क्यों नहीं खोल लेते।

नाटक करार दिया था
एक दूसरे ट्वीट में सुशील मोदी ने ये भी ट्वीट किया, कि यदि राजद नेतृत्व में गरीबों की सेवा के लिये तत्परता और गंभीरता होती, तो अस्पताल शुरु होने से पहले सरकार से अनुमति ली जाती, उसके मानकों का पालन भी किया जाता, बिना डॉक्टर स्वास्थ्यकर्मी उपकरण के किसी परिसर में सिर्फ लगा देने से अस्पताल नहीं बन जाता, उन्होने इसे सिर्फ नाटक करार दिया था।

Read Also – मुख्तार अंसारी को रास्ते में ही बम से उड़ाने की थी साजिश, बिहार के विधायक ने 50 लाख की दी थी सुपारी!