Friday, April 23, 2021

इन सिपहसालारों ने निभाई खास भूमिका, तेजस्वी यादव के कहे जाते हैं आंख, नाक और कान!

राजद के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी को आगे बढाने में मदद की, रणनीति से लेकर प्रत्याशियों के चयन तक उनके लिये चुनावी मैदान तैयार किया गया।

बिहार चुनाव में परिणाम धीरे-धीरे घोषित हो रहे हैं, हालांकि अभी रुझान है, कुछ देर बाद चुनाव परिणाम घोषित किये जाएंगे, रुझानों में लालू की पार्टी राजद सबसे आगे दिख रही है, तेजस्वी यादव ने पिता लालू की गैरमौजूदगी में जमकर पसीना बहाया है, रुझानों में उनकी मेहनत रंग लाती दिख रही है, तेजस्वी की इस सफलता के पीछे कई और लोगों की भूमिका अहम रही, जिन्हें तेजस्वी का नाक, कान और आंख माना जाता है।

जगदानंद सिंह
राजद के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने तेजस्वी को आगे बढाने में मदद की, रणनीति से लेकर प्रत्याशियों के चयन तक उनके लिये चुनावी मैदान तैयार किया गया, इन नेताओं में सबसे पहला नाम जगदानंद सिंह का आता है, 74 वर्षीय जगदानंद लालू के करीबियों में रहे हैं, राजद के संस्थापक सदस्यों में से एक जगदानंद सिंह पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष हैं, टिकट बंटवारे में उनकी बड़ी भूमिका रही। माना जाता है कि वामदलों के साथ गठबंधन भी उनका ही फैसला था।

मनोज झा और संजय यादव
इस कड़ी में दूसरा नाम राज्यसभा सांसद मनोज झा का है, कहा जाता है कि रणनीतिक रुप से मनोज झा ने पार्टी के लिये बड़ा काम किया, इसके साथ ही संजय यादव ने भी बड़ी भूमिका निभाई,  तेजस्वी के सोशल मीडिया हैंडल्स से लेकर सरी चीजों तक में उनका रोल अहम रहा, संजय तेजस्वी के पिछले कई सालों से साथ हैं, दोनों दिल्ली में साथ में क्रिकेट खेलते थे, संजय यादव मूल रुप से हरियाणा के रहने वाले हैं और तेजस्वी के राजनीतिक सलाहकार हैं।

इनकी भी भूमिका
इसके अलावा राजद महिला विंग की प्रदेश अध्यक्ष डॉ. उर्मिला ठाकुर ने महिलाओं के बीच पार्टी के लिये अच्छा काम किया, साथ ही युवा नौकरी संवाद के मंच पर तेजस्वी के साथ मजबूती से खड़ी दिखी, नीतीश के अतिपिछड़ा वोटबैंक में सेंधमारी में राजद की ओर से प्रो. रामबली सिंह चंद्रवंशी ने अहम भूमिका निभाई।

Related Articles

- Advertisement -spot_img

Latest Articles