23 जनवरी को राज ठाकरे करेंगे बड़ा ऐलान, फडण्वीस से मुलाकात के बाद लिखी जा चुकी पटकथा

0
137
Loading...

पूर्व सीएम देवेन्द्र फडण्वीस और राज ठाकरे ने मंगलवार शाम मुलाकात की, दोनों के बीच करीब दो घंटे बैठक चली।

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद से पल-पल सियासी समीकरण बदल रहे हैं, हाल ही में पूर्व सीएम और बीजेपी नेता देवेन्द्र फडण्वीस ने मनसे प्रमुख राज ठाकरे से मुलाकात की, जिसके बाद से सियासी अटकलें लगनी शुरु हो गई है, अएब बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने दावा किया है कि भविष्य में कुछ भी हो सकता है।

ठाकरे-फडण्वीस मुलाकात
सूत्रों का दावा है कि पूर्व सीएम देवेन्द्र फडण्वीस और राज ठाकरे ने मंगलवार शाम मुलाकात की, दोनों के बीच करीब दो घंटे बैठक चली, कहा जा रहा है कि दोनों के बीच प्रदेश की सियासत को लेकर बातचीत हुई, मालूम हो कि राज ठाकरे शिवसेना के एनसीपी और कांग्रेस के साथ सरकार बनाने के खिलाफ हैं, उन्होने कहा था कि उद्धव ठाकरे ने ये जनादेश का अपमान किया है।

Loading...

कुछ भी हो सकता है
राज ठाकरे और फडण्वीस की मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर महाराष्ट्र बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुधीर मुनगंटीवार ने बताया, कि किसी को भी ये उम्मीद नहीं थी, कि शिवसेना कांग्रेस-एनसीपी से हाथ मिला लेगी, दोनों नेताओं के बीच ये औपचारिक भेंट थी, इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं है, लेकिन भविष्य में कुछ भी हो सकता है।

किसी ने नहीं सोचा था
फडण्वीस सरकार में मंत्री रह चुके मुनगंटीवार ने कहा कि किसी को भी इस बात का अंदाजा नहीं था, कि शिवसेना एनसीपी-कांग्रेस से हाथ मिला लेगी, लोग ऐसी बात कहने वालों को पागल कहते थे, लेकिन ऐसा हुआ, महाराष्ट्र में लंबे समय तक बीजेपी की सहयोगी रही शिवसेना ने पिछले साल नवंबर में बीजेपी से नाता तोड़कर कांग्रेस और एनसीपी से हाथ मिला लिया, प्रदेश में महा विकास अघाड़ी सरकार का गठन किया।

23 जनवरी को अहम घोषणा
राज ठाकरे ने शिवसेना से अलग होकर साल 2006 में महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना का गठन किया था, पिछले साल अक्टूबर में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में मनसे सिर्फ एक ही सीट जीत पाई, मनसे के एक अधिकारी ने बताया कि राज ठाकरे इसी महीने 23 जनवरी को एक रैली कर अहम घोषणा कर सकते हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here