हालांकि रुठने की खबर के बाद प्रभात झा ने ट्विटर पर सफाई दी है, उन्होने ट्वीट कर लिखा, निरर्थक और निराधार खबरों से मेरा कोई संबंध नहीं है।

कांग्रेस के कद्दावर नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी में शामिल हो गये हैं, सिंधिया के बीजेपी में आने से राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा नाराज बताये जा रहे हैं, कहा जा रहा है कि विरोध स्वरुप प्रभात झा बीजेपी से इस्तीफा भी दे सकते हैं, दरअसल सिंधिया को पार्टी ने राज्यसभा उम्मीदवार घोषित कर दिया है, जिसके बाद कहा जा रहा है कि प्रभात झा की राज्यसभा सीट कुर्बान होगी, इसी वजह से वो नाराज बताये जा रहे हैं।

मंत्री बनाने की शर्त पर बीजेपी में लाये
आपको बता दें कि कयास ये लगाये जा रहे हैं कि सिंधिया को ना सिर्फ मध्य प्रदेश से राज्यसभा सांसद बनवाया जाएगा, बल्कि मोदी सरकार में उचित स्थान भी मिलेगा, इसी वजह से बीजेपी में शामिल होते ही उन्हें राज्यसभा सीट के लिये उम्मीदवार घोषित कर दिया गया।

प्रभात झा नाराज
बीजेपी राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा नाराज बताये जा रहे हैं, अगर उन्होने इस्तीफा दिया, तो वो अपने कुछ समर्थकों और विधायकों से भी इस्तीफा दिलवा सकते हैं, हालांकि बीजेपी प्रभात झा को मनाने में जुट गई है, कहा जा रहा है कि डैमेज कंट्रोल का पूरा इंतजाम है, उन्हें कहीं और शिफ्ट करने का आश्वासन देकर मनाया जा सकता है।

राजनीति से संन्यास लेंगे
4 जून 1957 को बिहार में पैदा हुए प्रभात झा की कर्मभूमि मध्य प्रदेश रही है, उन्होने 2012 में कहा था कि वो 62 साल की उम्र में सक्रिय राजनीति से संन्यास ले लेंगे, अब उनकी उम्र 62 साल से ज्यादा हो चुकी है और राज्यसभा सांसदी भी खत्म हो रही है, लेकिन 3 दिन पहले उन्होने इस बात से साफ इंकार कर दिया, कि अब वो चुनाव नहीं लड़ेंगे, उन्होने कहा कि पार्टी का जो भी फैसला होगा, मंजूर होगा।

दोनों में 36 का आंकड़ा
आपको बता दें कि प्रभात झा और सिंधिया के बीच 36 का आंकड़ा रहा है, 2017 में झा ने सिंधिया पर सौ अरब के संपत्ति घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाया था, तो दूसरी ओर सिंधिया झा को कभी अपने कद का नेता नहीं मानते, अब जब उन्हें इतने सम्मान से बीजेपी में लाया गया है, तो झा को अपना कद छोटा महसूस जरुर होगा, इसी वजह से झा नाराज बताये जा रहे हैं।

रुठने पर दी सफाई
हालांकि रुठने की खबर के बाद प्रभात झा ने ट्विटर पर सफाई दी है, उन्होने ट्वीट कर लिखा, निरर्थक और निराधार खबरों से मेरा कोई संबंध नहीं है, उस शरारतपूर्ण खबर कि मैं भर्त्सना करता हूं, मेरी प्रमाणिकता, नैतिकता औऍर पार्टी निष्ठा को कोई चुनौती नहीं दे सकता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here