mulayam akhilesh

भाई शिवपाल यादव को पार्टी से बाहर करने के फैसले का भी मुलायम सिंह यादव ने खूब विरोध किया था, लेकिन अखिलेश ने उनकी एक ना सुनी, बेटे के फैसले से मुलायम बेहद दुखी थी।

पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव समाजवादी पार्टी के संस्थापक हैं, उन्होने अपने दम पर पार्टी को फर्श से अर्श तक पहुंचाया, मुलायम ने दो शादी की है, पहली पत्नी मालती देवी के निधन के बाद नेताजी ने साधना गुप्ता से शादी की, अखिलेश यादव पहली पत्नी के बेटे हैं, अखिलेश की शादी डिंपल यादव से हुई है, अखिलेश और डिंपल दोनों ने कई ऐसे फैसले लिये, जिसने मुलायम सिंह यादव को परेशान कर दिया।

दर्द बयां किया
बेटे अखिलेश के फैसलों से आहत मुलायम सिंह यादव ने कई बार सार्वजनिक मंचों से अपना दर्द बयां किया, 2017 में जब अखिलेश ने पिता को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटा दिया, तो पार्टी और मुलायम परिवार की खूब किरकिरी हुई थी। मुलायम ने साफ कहा था कि अखिलेश ने मेरी जितनी बेइज्जती करवाई है, उतनी जीवन में कभी नहीं हुई।

एक ना सुनी
भाई शिवपाल यादव को पार्टी से बाहर करने के फैसले का भी मुलायम सिंह यादव ने खूब विरोध किया था, लेकिन अखिलेश ने उनकी एक ना सुनी, बेटे के फैसले से मुलायम बेहद दुखी थी, मुलायम की दूसरी पत्नी साधना गुप्ता ने भी इस बारे में मीडिया को बताया था।

बहू राजनीति में उतरी
बहू डिंपल यादव के एक फैसले ने भी मुलायम को बेहद निराश किया था, डिंपल से पहले मुलायम परिवार की कोई भी महिला राजनीति मं नहीं थी, फिर भी परंपरा को तोड़ते हुए डिंपल ने राजनीति में एंट्री मारी थी। दरअसल मुलायम नहीं चाहते थे, कि डिंपल राजनीति में आएं और चुनाव लड़ें, फिर भी डिंपल ने 2009 में ससुर की मर्जी के खिलाफ चुनाव लड़ा और हार गई, डिंपल के इस फैसले ने मुलायम सिंह यादव का काफी आहत किया था।

Read Also – यूपी में महिला प्रस्तावक के कपड़े फाड़े, जानिये कहां-कहां क्या -क्या हुआ?