scindia modi5

जदयू को भी इस कैबिनेट विस्तार का हिस्सा बनाया जा सकता है, माना जा रहा है कि जदयू से किसी एक नेता को मंत्री पद मिल सकता है।

पीएम मोदी 8 जुलाई को अपने कैबिनेट का विस्तार कर सकते हैं, बीजेपी के शीर्ष स्तर पर बैठकों का दौर जारी है, इस बार कैबिनेट में करीब 17 से 22 नये मंत्री शामिल हो सकते हैं, इस दौरान कई मंत्रियों से अतिरिक्त प्रभार भी लिये जा सकते हैं, वहीं कई मंत्रियों की छुट्टी भी हो सकती है, कैबिनेट विस्तार में चुनावी राज्यों का खासा ख्याल रखा जा सकता है, इस बीच जिन नेताओं की मंत्रिमंडल में शामिल होने की चर्चा हो रही है, वो एक-एक करके दिल्ली पहुंच रहे हैं।

जदयू को भी निमंत्रण
जदयू को भी इस कैबिनेट विस्तार का हिस्सा बनाया जा सकता है, माना जा रहा है कि जदयू से किसी एक नेता को मंत्री पद मिल सकता है, इसके लिये जदयू की ओर से आरसीपी सिंह दिल्ली पहुंच रहे हैं, हालांकि सूत्रों के अनुसार नीतीश कुमार चाहते हैं कि उनकी पार्टी को कम से कम तीन मंत्रालय मिले।

ये नेता शाम तक पहुंचेंगे दिल्ली
असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को दिल्ली बुलाया गया है
कांग्रेस से बीजेपी में आये राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया शाम तक दिल्ली पहुंचेंगे
नारायण राणे को भी दिल्ली बुलाया गया है।
अपने आक्रामक तेवरों के लिये जाने-जाने वाले वरुण गांधी को भी कैबिनेट में जगह दी जा सकती है, वो शाम तक दिल्ली पहुंच सकते हैं।
अनुप्रिया पटेल को भी मिल सकती है जगह।

यूपी से 3-4 मंत्री
चुनावी राज्य यूपी से 3-4 लोगों को मंत्री बनाया जा सकता है, इन मंत्रियों में अपना दल की नेता अनुप्रिया पटेल को भी जगह दी जा सकती है, प्रदेश में विधानसभा चुनाव को देखते हुए कई समीकरणों को ध्यान में रखकर मंत्रियों का नाम फाइनल हो सकता है। कैबिनेट विस्तार की चर्चा के बीच पीएम मोदी, अमित शाह ने बीजेपी संगठन महामंत्री बीएल संतोष के साथ बैठक खत्म कर चुके हैं, माना जा रहा है कि इस मीटिंग में कैबिनेट विस्तार से जुड़े ब्योरे को अंतिम रुप दिया गया है।

Read Also – मोदी कैबिनेट विस्तार में जदयू-लोजपा का शामिल होना तय, अमित शाह ने पारस को किया फोन