अंतरजातीय विवाह के बाद दो साल तक घर में नहीं मिली थी एंट्री, दिलचस्प है कुमार विश्वास की लव स्टोरी

0
3550
Loading...

राजस्थान के एक कॉलेज में कुमार विश्वास और मंजू लेक्चरर थे, दोनों ने एक-दूसरे को पसंद किया और शादी कर ली।

आज के दौर में देश के सबसे महंगे कवियों में गिने जाने वाले डॉ. कुमार विश्वास दिल्ली चुनाव की वजह से सुर्खियों में हैं, हालांकि कुमार सक्रिय राजनीति से दूर हैं, लेकिन ट्विटर के माध्यम से वो अपने पुराने मित्र और दिल्ली के सीएम केजरीवाल पर हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ रहे हैं, खैर आज हम आपको उनकी राजनीतिक सफर के बारे में नहीं बताएंगे, बल्कि उनके पर्सनल लाइफ से रुबरु कराएंगे।

मंजू विश्वास से शादी
युवाओं के लिये इश्क की कविता लिखने वाले कविराज कुमार विश्वास असल जिंदगी में प्यार में डूबे हुए शख्स हैं, उन्होने मंजू विश्वास से शादी की है, कुमार की तरह उनकी पत्नी भी लेक्चरर रही हैं, दोनों की 2 बेटियां हैं, कुमार ने एक इंटरव्यू में बताया था कि कॉलेज में नौकरी के दौरान ही वो मंजू से मिले और दिल दे बैठे, इस बार उन्होने पहले प्यार जैसी गलती नहीं की, इसलिये पहले शादी की, फिर घर वालों को सूचना दी।

दो साल घर में नहीं मिली एंट्री
राजस्थान के एक कॉलेज में कुमार विश्वास और मंजू लेक्चरर थे, दोनों ने एक-दूसरे को पसंद किया और शादी कर ली, हालांकि ये अंतरजातीय विवाह था, इस वजह से कुमार विश्वास के पिता नाराज हो गये, करीब दो साल तक कुमार विश्वास को अपने घर में एंट्री नहीं मिली, जिसके बाद उनके बड़े भाई और बहन ने पिता को समझाया, फिर मान-मनौव्वल के बाद कुमार के पिता माने और उन्हें घर में एंट्री मिली।

ब्राह्मण से शादी क्यों नहीं की
हाल ही में चर्चित पत्रकार ऋचा अनिरुद्ध से बात करते हुए कुमार विश्वास ने बताया कि उनके पिता बस इस बात से नाराज थे, कि लड़की ब्राह्मण क्यों नहीं है, तो उन्हें समझाने के लिये उनके बड़े भाई पहुंचे थे, तो उन्होने कहा था कि पिता ने उन्हें बताया था कि ब्राह्मण का 6 काम है, दान देना, दान लेना, यज्ञ करना यज्ञ कराना, शिक्षा देना शिक्षा लेना, वो 6 के 6 काम करती हैं। वीडियो देखने के लिये नीचे क्लिक करें
(नोट – वीडियो 22.00 से देखना शुरु करें)

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here