कुमार विश्वास ने कहा कि देश की जनता ने नेता और पार्टियों पर भरोसा रख लिया है, इससे कुछ नहीं हो सकता, सभी अपने आप पर विश्वास रखें।

बिहार की राजधानी पटना में आयोजित एक कवि सम्मेलन में कुमार विश्वास ने कहा कि देश में पार्टियां बनेगी और टूटेंगी, लेकिन देश नहीं टूटना चाहिये, देष रहना चाहिये, उन्होने कहा कि बंगाल में तो जय श्रीराम के नारे से कुछ लोग भयभीत हो रहे हैं, राजनीति परिवर्तनशील होती है लेकिन कविता नहीं, राजनीति में विचारों को महत्व देने की जरुरत है, इस दौरान उन्होने कोरोना काल में जरुरतमंदों की मदद के लिये एक्टर सोनू सूद की तारीफ की।

पार्टियों से ज्यादा अपने पर भी रखें विश्वास
कुमार विश्वास ने कहा कि देश की जनता ने नेता और पार्टियों पर भरोसा रख लिया है, इससे कुछ नहीं हो सकता, सभी अपने आप पर विश्वास रखें, नेताओं से सवाल पूछने की हिम्मत पैदा करें, सम्राट कुटियों से भी निकल सकता है, जैसे चंद्रगुप्त निकले, विश्वास ने ये भी कहा, कि जो भी पीढी अतीत पर सवाल उठाती है, वो निकम्मी है, इस दौरान उन्होने कोरोना काल के दौरान लोगों की मदद के लिये सोनू सूद की तारीफ भी की।

हाशिये पर पड़े हैं कुमार
कभी आम आदमी पार्टी के बड़े चेहरों में शामिल रहे कुमार विश्वास अब हाशिये पर पड़े हैं, ना तो पार्टी अब उन्हें ज्यादा भाव देती है और ना ही वो पार्टी के कार्यक्रमों में नजर आते हैं, कहा जाता है कि केजरीवाल के साथ मतभेद के बाद उन्हें किनारे कर दिया गया। इस वजह वो केजरीवाल पर हमला करने का कोई मौका नहीं छोड़ते हैं।

बीजेपी में जाने की चर्चा
कुमार विश्वास के बीजेपी में जाने की पिछले काफी समय से चर्चा है, हालांकि अभी तक ये सिर्फ कयास ही साबित हुए हैं, कहा जा रहा है कि कुमार विश्वास को जल्द ही बीजेपी में शामिल कराया जाएगा, दिल्ली की जगह यूपी की राजनीति में पार्टी उन्हें इस्तेमाल करेगी।

Read Also – किसान आंदोलन को लेकर बोली हेमा मालिनी, तो कुमार विश्वास ने मारा ताना, ट्वीट वायरल!