kamalnath scindia

एमपी में कांग्रेस की सरकार गिराने में और शिवराज को सत्ता में वापस लाने में बड़ी भूमिका निभाने वाले ज्योतिरादित्य सिधिया के केन्द्रीय मंत्री बनते ही एक बार फिर से कांग्रेस के हमले तेज हो गये हैं।

मोदी सरकार के विस्तार में कांग्रेस से बीजेपी में आने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को भी मंत्री बनाया गया है। मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार की तख्ता पलट में बड़ी भूमिका निभाने वाले सिंधिया ने अपने समर्थकों के साथ बीजेपी का दामन थाम लिया था, जिसके बाद से ही कहा जा रहा था कि उन्हें मोदी सरकार में बड़ी जिम्मेदारी मिलेगी, अब सिंधिया के मंत्री बनाये जाने के बाद कमलनाथ ने चुप्पी तोड़ी है।

सिंधिया पर भड़के कमलनाथ
एमपी में कांग्रेस की सरकार गिराने में और शिवराज को सत्ता में वापस लाने में बड़ी भूमिका निभाने वाले ज्योतिरादित्य सिधिया के केन्द्रीय मंत्री बनते ही एक बार फिर से कांग्रेस के हमले तेज हो गये हैं, मोदी सरकार में सिंधिया को नागरिक उड्डयन मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है। सिंधिया के मंत्री बनने पर कमलनाथ ने भी तंज कसा है, उन्होने कहा कि सिंधिया को मंत्री बनाये जाने का फैसला बीजेपी और सिंधिया के बीच का है, अब देखते हैं कि गाड़ी आगे कैसे चलती है।

मंत्री पर विवादित टिप्पणी
वहीं कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष के मीडिया कंवेनर नरेन्द्र सलूजा ने सिंधिया को सिविल एविएशन मिनिस्ट्री की जिम्मेदारी दिये जाने पर कहा कि कर्ज और घाटे में डूबी एयर इंडिया अपनी प्रॉपर्टी की ऑनलाइन बिक्री करने जा रही है, सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है कि बिके हुए को बिका हुआ काम दिया।

अपना गुट बनाएंगे
ज्योतिरादित्य सिंधिया के किसी दौर में करीबी नेता रहे पूर्व मंत्री रामनिवास रावत ने कहा कि सिंधिया के केन्द्रीय मंत्री बनने के साथ एमपी बीजेपी का संकट खत्म नहीं बल्कि शुरु हुआ है, ग्वालियर चंबल से बाहर निकलकर अब पूरे प्रदेश में सिंधिया बीजेपी के भीतर अपना गुट बनाएंगे।

Read Also- मंत्री बनते ही ज्योतिरादित्य सिंधिया से मिलने पहुंची इमरती देवी, खुद को नहीं रोक सकी, भावुक हुए महाराज