सिंधिया परिवार से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि ग्वालियर राजघराने के महाराज ज्योतिरादित्य की शादी बड़ौदा राजघराने की राजकुमारी प्रियदर्शनी से हुई है।

कांग्रेस पार्टी में अनदेखी किये जाने से खफा पूर्व केन्द्रीय मंत्री और कांग्रेस महासचिव ने पद तथा पार्टी से इस्तीफा दे दिया है, कहा जा रहा है कि वो जल्द ही बीजेपी ज्वाइन कर सकते हैं, इस बावत उनकी पीएम मोदी और अमित शाह से मुलाकात हो चुकी है, अब सिंधिया के बीजेपी में आने पर एक बड़ा खुलासा हुआ है, बताया जा रहा है कि उनके ससुराल के लोगों ने उन्हें बीजेपी में लाने में बड़ी भूमिका निभाई है।

बड़ौदा राजघराने में ससुराल
सिंधिया परिवार से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि ग्वालियर राजघराने के महाराज ज्योतिरादित्य की शादी बड़ौदा राजघराने की राजकुमारी प्रियदर्शनी से हुई है, बड़ौदा राजघराने की महारानी राजमाता शुभांगिनी देवी गायकवाड़ ने सिंधिया और मोदी के बीच बातचीत का रास्ता तैयार किया।

मोदी से अच्छे हैं संबंध
सूत्र ने बताया कि ज्योतिरादित्य की पत्नी प्रियदर्शनी बड़ौदा के गायकवाड़ राजघराने से हैं, इस नाते उनका अकसर वहां आना-जाना होता है, बड़ौदा का महारानी का पीएम मोदी से अच्छे संबंध हैं, पीएम उनका बहुत सम्मान करते हैं, जिसके बाद उन्होने ही उनके बीजेपी में आने की बात छेड़ी, तो प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वागत है।

सोनिया गांधी ने समय नहीं दिया
सूत्र ने ये भी बताया कि ज्योतिरादित्य सोनिया जी से मिलना चाहते थे, लेकिन उनकी बात नहीं सुनी गई, राहुल गांधी से बात की, तो उन्होने कहा कि आप सीएम कमलनाथ से बात कर मतभेदों को सुलझाओ, जिसके बाद महाराज ने सीएम से बात कर समस्याओं पर बात करनी चाही, लेकिन उन्होने अनसुना कर दिया, जिससे वो नाराज हो गये, रविवार को भी उन्होने सोनिया गांधी से मुलाकात की कोशिश की, लेकिन उन्हें समय नहीं दिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here