scindia8

आजादी के बाद सिंधिया परिवार के पास करीब सौ से ज्यादा कंपनियों ने शेयर थे, जिसमें बॉम्बे डाइंगक के 49 फीसदी शेयर भी शामिल थे।

दिग्गज राजनेता ज्योतिरादित्य सिंधिया इस समय भारतीय मीडिया की सुर्खियों में हैं, उन्हें लेकर कांग्रेस से बीजेपी तक ऊहापोह मची हुई है, ग्वालियर के सिंधिया राजघराने को लेकर एमपी में काफी सम्मान है, आजादी के बाद से ही ये परिवार राष्ट्रीय राजनीति के केन्द्र में रहा है, लोगों के बीच सम्मान से देखे जाने वाले इस राजघराने में संपत्ति को लेकर भी गंभीर विवाद चल रहा है, करीब तीस साल पहले परिवार में संपत्ति विवाद शुरु हुआ, जो करीब 40 हजार करोड़ की प्रॉपर्टी पर है, विवाद ज्योतिरादित्य और उनकी तीन बुआ के बीच है।

कोर्ट से बाहर मामला निपटाने की कोशिश
हालांकि 2017 में ज्योतिरादित्य ने कोर्ट से बाहर मामला निपटाने का निवेदन किया था, इंडिया लीगल वेबसाइट पर छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक ज्योतिरादित्य के निवेदन के बाद कोर्ट ने भी समझाइश की थी कि इस विवाद से जुड़े सभी लोग पढे लिके हैं, वो कोर्ट के बाहर ही मामले का निपटारा कर लें, जज ने ये भी कहा कि सिंधिया परिवार से जुड़े संपत्ति विवाद के मामले बॉम्बे, दिल्ली, पुणे, जबलपुर और ग्वालियर कोर्ट में चल रहे हैं, हालांकि अभी तक इस पर कोई फैसला नहीं हो पाया है।

आजादी के बाद अकूत संपत्ति
आजादी के बाद सिंधिया परिवार के पास करीब सौ से ज्यादा कंपनियों ने शेयर थे, जिसमें बॉम्बे डाइंगक के 49 फीसदी शेयर भी शामिल थे, सिंधिया परिवार के सिर्फ ग्वालियर में 10 हजार करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है, जिसमें कई महल जैसे जय विलास, सख्य विलास, सुसेरा कोठी, कुलेठ कोठी शामिल है, ग्वालियर के बाहर एमपी में परिवार के साथ करीब तीन हजार करोड़ की संपत्ति है, दिल्ली में करीब 7 हजार करोड़ की संपत्ति है, जिसमें ग्वालियर हाउस, सिंधिया विला और राजपुर रोड पर एक प्लॉट शामिल है।

गोवा और वाराणसी में भी संपत्ति
यूपी के वाराणसी में भी परिवार के साथ अच्छी खासी संपत्ति है, शहर में पद्म विलास नाम का एक महल है, तो गोवा में भी संपत्ति का कुछ हिस्सा है, इसके अलावा मुंबई में भी सिंधिया परिवार के पास 1200 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति है, एक आकलन के मुताबिक कुल मिलाकर करीब 40 हजार करोड़ की संपत्ति इस राजघराने के नाम है।

माधवराव की बहनें
ज्योतिरादित्य की तीन बुआ है, ऊषा राजे, वसुंधरा राजे और यशोधरा राजे, माना जाता है कि परिवार की संपत्ति पर मुख्य रुप से यशोधरा ने ही दावा ठोका है, सबसे बड़ी बहन ऊषा की शादी नेपाल में हुई, वहां उनकी अच्छी खासी संपत्ति है, कुछ ऐसा ही वसुंधरा राजे के साथ भी हुआ, वो धौलपुर घराने की बहू है, लेकिन यशोधरा की शादी एक लंदन बेस्ड डॉक्टर से हुई थी, जिससे तलाक के बाद वो वापस देश लौट गई, वर्तमान में वो शिवपुरी से बीजेपी विधायक हैं, शिवराज सरकार में मंत्री भी रह चुकी हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here