एमपी में हो सकता है बड़ा उलटफेर, सिंधिया ने दिखाये तेवर, बयान के बाद चढा सियासी पारा

0
1690
Loading...

मध्य प्रदेश में सिंधिया को मुख्यमंत्री पद का दावेदार माना जा रहा था, लेकिन विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस हाईकमान ने कमलनाथ को सीएम की कुर्सी दे दी।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में मिली कांग्रेस को करारी हार के बाद राष्ट्रीय महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने तल्ख टिप्पणी की, इसके बाद अब उन्होने एमपी सरकार के खिलाफ ही सड़कों पर उतरने की बात कही है, जिससे मध्य प्रदेश का सियासी पारा ऊपर चढ गया है, सिंधिया के इस बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं। आइये आपको बताते हैं कि आखिर पूरा मामला क्या है।

क्या कहा सिंधिया ने
न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार कांग्रेस महासचिव ने कहा कि मैं आपको विश्वास दिलाना चाहता हूं, कि हमारे घोषणा पत्र में आपकी मांगों को शामिल किया गया है, ये हमारा पवित्र पाठ है, आप धैर्य रखें, अगर घोषणा पत्र को लागू नहीं किया गया, तो ये मत सोचना कि आप अकेले हैं, ज्योतिरादित्य सिंधिया भी आपके साथ है और आपके लिये सड़कों पर उतर जाऊंगा।

हार पर निराशा
दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली करारी हार के बाद सिंधिया ने निराशाजनक बताया है, उन्होने मीडिया से बात करते हुए कहा कि हमारी पार्टी दिल्ली विधानसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी, अब देश बदल रहा है, हमें भी बदले हुए परिवेश में खुद को बदलने की जरुरत है।

सीएम रेस में शामिल
आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में सिंधिया को मुख्यमंत्री पद का दावेदार माना जा रहा था, लेकिन विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस हाईकमान ने कमलनाथ को सीएम की कुर्सी दे दी, तब से ही सिंधिया खेमा को लगातार नजरअंदाज किया जा रहा है, इसके खिलाफ भी कुछ विधायक खुलकर बोल चुके हैं, अब सिंधिया का बयान कुछ और ही इशारा कर रहा है। इसके कई मायने निकाले जा रहे हैं।

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here