ज्योतिरादित्य सिंधिया का जन्म 1 जनवरी 1971 को मुंबई में हुआ था, उन्होने 1993 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र की डिग्री ली, स्टैनफोर्ड ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस से एमबीए किया।

मोदी कैबिनेट के बहुप्रतीक्षित विस्तार में मध्य प्रदेश के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को मंत्री बनाया गया, उन्हें सिविल एविएशन मंत्रालय की जिम्मेदारी सौंपी गई है। ग्वालियर राज घराने के चश्मोचिराग ज्योतिरादित्य की निजी जिंदगी भी राजा-महाराजाओं जैसा ही शानोशौकत से भरा रहा है।

हार्वर्ड से पढाई
ज्योतिरादित्य सिंधिया का जन्म 1 जनवरी 1971 को मुंबई में हुआ था, उन्होने 1993 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र की डिग्री ली, स्टैनफोर्ड ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस से एमबीए किया, ज्योतिरादित्य की शादी बड़ौदा के गायकवाड़ राजघराने की प्रियदर्शिनी से हुई है, उनका एक बेटा महाआर्यमान और बेटी अनन्याराजे सिंधिया है। ज्योतिरादित्य की पत्नी प्रियदर्शिनी की खूबसूरती के कई किस्से कहे और सुने जाते हैं।

पहली नजर का प्यार
बताया जाता है कि 1991 में जब ज्योतिरादित्य ने पहली बार प्रियदर्शिनी को देखा था, तो वो उनकी खूबसूरती पर फिदा हो गये थे, पहली नजर का प्यार जल्द ही वैवाहिक संबंध में भी बदल गया, 12 दिसंबर 1994 को दोनों ने सात फेरे लिये थे, प्रियदर्शिनी की मां आशाराजे गायकवाड़ नेपाल की राजकुमारी थीं, जबकि ज्योतिरादित्य की मां माधवीराजे का संबंध भी नेपाल के ही शाही खानदान से है।

मां को भा गई
शादी से पहले प्रियदर्शिनी और ज्योतिरादित्य की कोई खास बातें या मुलाकातें नहीं हुई थी, एक पारिवारिक फंक्शन में ज्योतिरादित्य की मां माधवी को प्रियदर्शिनी भा गई थी, सिर्फ 13 साल की उम्र में ही प्रियदर्शिनी को देख माधवी राजे ने तय कर लिया था कि ये लड़की बेहद खूबसूरत है, इसी ही बहू बनाना है। आपको बता दें कि सिंधिया की पत्नी दुनिया की 50 सबसे खूबसूरत महिलाओं में शामिल है।

Read Also – सिंधिया घराने की संपत्ति जान ठिठक जाएंगे अंबानी-अडानी, कई राज्यों के बजट से ज्यादा महाराज की दौलत