74 साल की उम्र में दिग्गज नेता ने दुनिया को कहा अलविदा, दिग्गज दे रहे श्रद्धांजलि

0
798

अजित जोगी का नाम कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में लिया जाता था, वो छत्तीसगढ के पहले मुख्यमंत्री थे, हालांकि बाद में उन्होने कांग्रेस छोड़ अपनी पार्टी बना ली।

छत्तीसगढ के पहले मुख्यमंत्री अजित जोगी का आज निधन हो गया है, 74 साल की उम्र में उन्होने अंतिम सांस ली, जोगी को कार्डियक अरेस्ट के बाद 09 मई को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, कुछ समय उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया, तब से ही उनका मस्तिष्क पूरी तरह से काम नहीं कर रहा था, काफी दिनों वो स्वास्थ्य परेशानियों से जूझ रहे थे, करीब 20 दिन वो कोमा में भी रहे, बुधवार देर रात उन्होने फिर कार्डियक अरेस्ट हुआ, जिसके बाद शुक्रवार को दोबारा उनकी हालत बिगड़ गई और वो इस दुनिया से विदा हो गये।

कोमा में चले गये थे
दरअसल 9 मई को सुबह अजित जोगी को कार्डियक अरेस्ट हुआ, जिसके बाद उनके परिजनों ने उन्हें रायपुर के श्री नारायणा अस्पताल में भर्ती कराया, डॉक्टरों ने बताया कि कार्डियक अरेस्ट के बाद जोगी की दिल की धड़कनें लगभग रुक गई थी, वो कोमा में चले गये थे। डॉक्टरों की लगातार कोशिश के बावजूद उनकी हालत में सुधार नहीं हो पा रहा था।

9 मई से अस्पताल में भर्ती
परिजनों ने बताया कि 9 मई को सुबह करीब 10-11 बजे अजित जोगी तैयार होने के बाद अपने लॉन में व्हीलचेयर के माध्यम से टहल रहे थे, उससे पहले उन्होने गंगा इमली खाये थे, जिसके बाद उन्हें कार्डियक अरेस्ट हुआ, परिजनों ने तुरंत उन्हें अस्पताल पहुंचाया। जहां वो कोमा में चले गये, टेली कांफ्रेंसिग के माध्यम से देश के दूसरे बड़े डॉक्टरों से भी मदद मांगी गई, हालांकि उन्हें लाभ नहीं मिला, बाद में डॉक्टरों ने उन्हें ऑडियो थेरेपी दिया, उन्हें पसंदीदा गाने सुनाये इसके बावजूद उनका मस्तिष्क काम नहीं कर रहा था।

छत्तीसगढ के पहले मुख्यमंत्री
अजित जोगी का नाम कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में लिया जाता था, वो छत्तीसगढ के पहले मुख्यमंत्री थे, हालांकि बाद में उन्होने कांग्रेस छोड़ अपनी पार्टी बना ली, इस बार भी छत्तीसगढ विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी पूरे जोर-शोर से लड़ी, लेकिन उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सकी।